अंगरक्षक का पिस्टल बरामद,महिला सहित चार गिरफ्तार

875

पुलिस कप्तान लिपि सिंह ने प्रेस वार्ता कर दी जानकारी

सहरसा@रितेश हन्नी : जिले की पुलिस ने बीते दिनों आठ मई को सिविल सर्जन के बॉडीगार्ड की चोरी हुई सर्विस पिस्टल के साथ एक महिला सहित चार अपराधियों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने इन अपराधियों के पास से चोरी हुआ पुलिस का सर्विस पिस्टल सहित एक देशी पिस्टल, दो देशी कट्टा, एक मैगजीन और बारह जिंदा कारतूस बरामद किया है। पुलिस गिरफ्त में आए अपराधियों में मंजेश कुमार यादव, महादेव साह, अशोक साह और निशा कुमारी शामिल है। आपको बता दें कि बीते आठ मई को सहरसा के तत्कालीन सिविल सर्जन डॉ० अवधेश कुमार के बॉडीगार्ड मंजीत कुमार जो कि सदर थाना क्षेत्र के नया बाजार स्थित एक किराए के मकान में रहता था और वो छुट्टी लेकर मकान में ताला लगाकर मधेपुरा जिला स्थित अपने सम्बन्धी के यहां किसी समारोह में शामिल होने गया हुआ था। इसी दौरान बंद घर का ताला तोड़कर चोरों ने उनके घर से कीमती सामान सहित सर्विस पिस्टल पर हाथ साफ कर दिया। इधर सिपाही मंजीत कुमार की शिकायत पर पुलिस मामला दर्जकर छापेमारी में जुटी थी। इसी क्रम में पुलिस ने सदर थाना क्षेत्र के गोबरगढ़ा नहर के समीप कुछ अपराधियों को अपराध की योजना बनाते हुए अवैध हथियार के साथ धर दबोचा। पुलिस की पूछताछ और अपराधियों के निशानदेही पर पुलिस ने सिपाही का चोरी हुआ सर्विस पिस्टल बरामद कर लिया।

पूरे मामले पर जिले की एसपी लिपि सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि बीते दिनों पुलिस की सर्विस पिस्टल चोरी होने का मामला दर्ज किया गया था। जिसके बाद पुलिस की टीम का गठन कर लगातार छापेमारी की जा रही थी इसी क्रम में पुलिस को यह सफलता मिली है। उन्होंने बताया कि कांड के सफल उद्धभेदन हेतु प्रशिक्षु डीएसपी निशिकांत भारती और सदर एसडीपीओ संतोष कुमार के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया गया था। गठित टीम में सदर अंचल निरीक्षक इंस्पेक्टर राजमणि, सदर थानाध्यक्ष इंस्पेक्टर सुधाकर कुमार, एसआई मनीष कुमार, विनोदमणि दिवाकर, तकनीकी शाखा के सिपाही अमर कुमार सहित पुलिस बल शामिल थे। एसपी ने बताया कि सर्विस पिस्टल चोरी मामले का मुख्य अभियुक्त पुलिस की पकड़ से बाहर है, जिसकी गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है। जल्द ही उसकी भी गिरफ्तारी सुनिश्चित होगी।