मधुबनी – यूनिसेफ क़े सहयोग से स्वास्थ्य कार्यक्रम हुआ बेहतर।

यूनिसेफ क़े सहयोग से स्वास्थ्य कार्यक्रम हुआ  बेहतर ।

मधुबनी – स्थानीय अतिथी होटल क़े सभागार में यूनिसेफ मधुबनी का वार्षिक महोत्सव मनाया गया। इस अवसर पर यूनिसेफ क़े एसएमसी प्रमोद कुमार झा ने  कहा की प्रतिरक्षण, पोलियो, एवं वर्तमान में चल रहे कोविड टीकाकरण में मॉब्लैजेसन, माइक्रो प्लानिंग, तथा स्वास्थ्य विभाग क़े अन्य गतिविधियो से समन्वय स्थापित करने का कार्य गांव स्तर से लेकर जिला स्तर तक किया जा रहा है। इस वार्षिक उत्सव में  शामिल होते हुए एसीएमओ डा. आर. क़े. सिंह ने बीएमसी एवं एसएमसी मधुबनी को धन्यवाद देते हुए कहा कि आप हमारे रीढ़ हैं, आप सभी क़े सहयोग से ही मधुबनी का स्वास्थ्य कार्यक्रम अन्य जिलों से बेहतर हुआ है। वहीं जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डा. एस. क़े. विश्वकर्मा ने यूनिसेफ टीम का आभार प्रकट करते हुए कहा कि आप सभी का कार्य सराहनीय है। आपका स्वास्थ्य विभाग क़े साथ सहयोगात्मक भावना काबिलेतारीफ है। उन्होने एसएमसी प्रमोद कुमार झा क़े कार्यो का तारीफ करते  हुए कहा कि जिले में कही से भी रीफ्युजल का मामला आता है तो स्वास्थ्य विभाग क़े सभी अधिकारी एसएमसी प्रमोद जी से कुछ विशेष उम्मीद करते हैं रीफ्युजल ब्रेक करवाने में। क्योंकी रीफ्युजल ब्रेक करने में प्रमोद जी का योगदान अन्य आधिकारियों से ज्यादा रहता है।

कोरोना वारियर्स जिला में कोई है तो यूनिसेफ मधुबनी टीम है।

इस अवसर पर डीपीएम दया शंकर निधि, आईसीडिएस प्रतिनिधि, केयर इंडिया से महेन्द् सोलंकी, डा. एस. पी. सिंह,  पूर्व बीएमसी अभिषेक कुमार चंचल, बीएमसी आफताब आलम, एवं बीएमसी अनीता कुमारी ने भी कार्यक्रम में अपना अपना वक्तव्य रखें।

कार्यक्रम की सूरूआत सभी आधिकारियों क़े द्वारा दीप प्रज्वलित कर किया गया। कार्यक्रम का संचालन यूनिसेफ मधुबनी क़े एसएमसी प्रमोद कुमार झा ने किया।