शत-प्रतिशत टीकाकरण के लिए रायभीड़ पंचायत के प्रतिनिधियों ने लिया संकल्प

939

बीडीओ की अध्यक्षता में जागरूकता कार्यशाला का हुआ आयोजन

मधेपुरा: जिले के शंकरपुर प्रखंड के रायभीड़ पंचायत भवन परिसर में  कोरोनावायरस के संक्रमण से बचाव व टीकाकरण जागरूकता विषयक कार्यशाला का आयोजन किया गया। इस कार्यशाला में रायभीर पंचायत के सभी जनप्रतिनिधि यथा – मुखिया, वार्ड सदस्य, सरपंच, पंच एवम् कर्मी एवम् ग्रामीणों ने भाग लिया। प्रखंड विकास पदाधिकारी सरस्वती कुमारी ने कार्यशाला में भाग ले रहे सभी जनप्रतिनिधियों एवम् ग्रामीणों से कहा कि कोरोनावायरस की तीसरी लहर से निपटने के लिए सावधानी एवम् टीकाकरण ही एक मात्र विकल्प है। गांवों में कोरोना टीकाकरण के प्रति लोगों को जागरूक करते हुए प्रत्येक दशा में शत-प्रतिशत टीकाकरण कराएं। इस दौरान जनप्रतिनिधियों, स्वास्थ व कर्मचारियों को शत प्रतिशत टीकाकरण एवं कोरोना उन्मूलन में सहयोग के लिए शपथ दिलायी गई | प्रखंड विकास पदधिकारी सरस्वती कुमारी ने बताया कि सरकार के निर्देश के आलोक में इसी तरह अन्य पंचायतों के लिए भी जागरूकता अभियान चलाया जा रहा एवम् 18 से 45 वर्ष तक के सभी पात्र लाभुकों का शत प्रतिशत टीकाकरण के लिए संकल्प दिलाया जाएगा। इस मौके पर प्रखंड पंचायत राज पदाधिकारी शैलेश चन्द्र मिश्र समेत, शंकरपुर पी एच सी के चिकित्सा प्रभारी एवम् अन्य अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन रायभीड़ पंचायत की मुखिया सुमित्रा देवी द्वारा किया गया।

वैक्सीन ही कोरोना से बचाव का सुरक्षा चक्र –

बीडीओ सरस्वती कुमारी ने रायभीड़ पंचायत के सभी वार्ड सदस्य एवम् अन्य जनप्रतिनिधियों को वैक्सीनेशन के महाअभियान में सहभागी बनने की अपील की है। कहा कि वैक्सीन ही कोरोना से बचाव का सुरक्षा चक्र है। अतः सभी लोग स्वयं वैक्सीन लगवाएं और अपने आसपास के लोगों व परिचितों को भी वैक्सीन लगवाने हेतु प्रेरित करें। उन्हें टीकाकरण केंद्र पर लाकर वैक्सीन अवश्य लगवाएं। बीडीओ ने अपील की है कि जिन्हें वैक्सीन की पहली डोज लगी है, वे दूसरी डोज भी अवश्य लगवाएं।

शत प्रतिशत टीकाकरण को लेकर हर स्तर पर प्रयास –

शंकरपुर प्रखंड की पंचायत राज पदाधिकारी शैलेश चन्द्र मिश्रा ने बताया कि कोरोना की वैक्सीन लगाने को लेकर प्रखंड प्रशासन की ओर से हर स्तर पर प्रयास शुरू कर दिया गया है। इस प्रयास का असर भी दिखने लगा है। अब ज्यादा संख्या में लोग टीकाकरण केंद्र पर पहुंचकर टीका लगवा रहे है। पंचायत स्तर के विभिन्न जनप्रतिनिधियों, कर्मियों एवं जीविका दीदियों के साथ-साथ शिक्षकों के द्वारा किए जा रहे सम्मिलित प्रयास से टीकाकरण में अब गति आ गई है। लोगों में टीकाकरण के प्रति जो संशय था, वह खत्म होने लगा है।

शत प्रतिशत टीकाकरण का लक्ष्य प्राप्त करने वाले पंचायत होंगे सम्मानित

प्रखंड के जिन पंचायतों में शत प्रतिशत टीकाकरण का लक्ष्य प्राप्त कर लिया जाएगा, उस पंचायत को बेस्ट पंचायत के अवॉर्ड से एवं संबंधित पंचायत के मुखिया को पुरस्कृत किया जाएगा। वहीं ब्लॉक स्तर पर वैसे ब्लॉक जो अपनी जनसंख्या का 50 प्रतिशत का टीकाकरण कार्य पूर्ण कर लेगा, उस प्रखंड को जिला प्रशासन द्वारा बेस्ट ब्लॉक के अवार्ड से सम्मानित किया जाएगा।