मासूम ममता को मिला माता पिता का आंचल

1367

जिला पदाधिकारी कौशल कुमार ने नन्ही बच्ची ममता को गोद मे लेकर उक्त दंपति को सौपा

सहरसा : दत्तक ग्रहण संस्थान में पल रही 3 माह की मासूम ममता को नए माता-पिता मिल गए ।ममता को आज दत्तक नियमावली के अनुसार ठाकुर पुकुर,24 परगना, कलकत्ता से आए निसंतान दंपति सोमा एवं कृष्णेंदु चक्रवर्ती को  जिला पदाधिकारी कौशल कुमार के हाथो से दत्तक में दिया गया। बताते चले कि इस मासूम बच्ची को सोनवर्षा राज से चाइल्ड लाइन टीम द्वारा लाया गया था और बाल कल्याण समिति के आदेश पर कोशी चौक स्थित विशिष्ट दत्तक ग्रहण संस्थान में संरक्षित किया गया था।वाहन,कैटरिंग का व्यवसाय करने वाले 24 परगना,कलकत्ता से आए निःसंतान दंपति सोमा एवं कृष्णेंदु चक्रवर्ती की शादी को 9 साल हो गए थे लेकिन उन्हें संतान नही है, उन्होंने एक बच्ची को गोद लेने का सोचा.सरकार के द्वारा संतान प्राप्ति के सभी मानकों को पूरा करने के बाद उन्हें दत्तक केंद्र से ममता के रूप में संतान की प्राप्ति हुई.दत्तक प्राप्त करने वाली माता सोमा चक्रवर्ती ने बच्ची को हाथ में लेते ही आनंद में बहुत देर तक रोती दिखी ।

 

इस दौरान जिलापदाधिकारी कौशल कुमार ने नन्ही बच्ची ममता को गोद मे लेकर उक्त दंपति को सौंपकर प्रक्रिया को पूरा किया.

बता दें कि इस संस्थान की यह 51वीं बच्ची थी जिसे दत्तक में दिया गया। इसके 10 दिन पूर्व एक बच्ची को बंगलोर के दंपति को दिया गया था। इस संस्थान से अब तक 42 बच्चे देश के अंदर और 9 बच्चे विदेश में दत्तक में दिये जा चुके हैं।इस अवसर पर जिला बाल संरक्षण इकाई के सत्यकाम,बाल कल्याण समिति के सदस्य प्रणव सिंह (अध्यक्ष),संजीव सिंह,सैयद युसुफ हसन चिश्ती, दत्तक ग्रहण संस्थान के समन्वयक मनोज मिश्रा, संस्थान की आयाएं मानवी कुंज, मनोरमा आदि मौजूद रही।