सहरसा में पोस्टेड BMP जवान ने ससुराल में फांसी लगा दी जान

361

पिछले 6 महीने से ससुराल में रह रही थी महिला

समस्तीपुर/सहरसा : समस्तीपुर दलसिंहसराय प्रखंड की नगरगामा पंचायत के मुखिया मंजीत कुमार की कोरोना से मौत के बाद अवसाद में चल रही कांस्टेबल पत्नी रीता कुमारी (30) ने बुधवार की दोपहर फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। घटना की सूचना के बाद दलसिंहसराय थाने की पुलिस आवश्यक कार्रवाई में जुट गई है। जानकारी के अनुसार मृतका पुलिस कांस्टेबल रीता कुमारी के पति नगरगामा पंचायत के मुखिया मंजीत कुमार की कोरोना संक्रमण के कारण 11 मई को बेगूसराय में इलाज के दौरान हो गई थी। वहीं इसके पूर्व कोरोना से ही मुखिया मंजीत के पिता सेवानिवृत्त शिक्षक सुरेंद्र महतो की मौत 7 मई को कोरोना से हो गई थी। मुखिया के बड़े भाई शिक्षक संजीव कुमार ने बताया कि छोटे भाई मुखिया मंजीत की मौत के बाद उनकी पत्नी बहुत ही डिप्रेशन में थी। बुधवार की सुबह भी वह अपने तीन माह के बच्चे छोटे पुत्र शिव्यांश एवं मेरी बेटी के साथ घर के कमरे में सो रही थी। लेकिन कुछ देर बाद ही जब बच्चे उससे अलग हुए तो वह कमरा बंदकर फिर सो गई। दोपहर में जब मेरी बेटी ने कमरा खुलवाने का काफी प्रयास किया तो बहु ने कमरा नहीं खोला। फिर कमरे का दरवाजा तोड़कर देखा गया तो वह फंदे में झूल रही थी। इसके बाद पुलिस को सूचना दी गई है। वह अपने पीछे दो पुत्र बड़ा प्रियांशू कुमार (3) और छोटा शिव्यांश ( तीन माह) है। वह सहरसा में बीएमपी कांस्टेबल के पद पर तैनात थी। फिलहाल वह मातृत्व अवकाश पर गांव में थी। इसी दौरान मुखिया पति की भी कोरोना से मौत हो गई। घटना की सूचना के बाद से ही गांव में मातम पसरा हुआ है।