#ReleaseAnandMohan : पूर्व सांसद आनंद मोहन की रिहाई के लिए देश भर में उपवास 

1286

आनंद मोहन को ससम्मान रिहा करें

सहरसा: मंडल कारा सहरसा में बंद पूर्व सांसद आनंद मोहन की जेल से रिहाई की मांग को लेकर विगत दिनों से ही उनके समर्थक व सहयोगी आंदोलन के मूड में हैं. फिलहाल समर्थकों लॉकडाउन के बीच  गांधीगिरी तरीके से आंदोलन करने का निर्णय लिया। मंगलवार को देश भर में फ्रेंड्स ऑफ आनंद के हजारों कार्यकर्ता अपने-अपने घरों,प्रतिष्ठानों, कार्यालयों में एक दिवसीय उपवास पर बैठे. इस दौरान आनंद मोहन की रिहाई की मांग की गई.

पूर्व सांसद आनंद मोहन के ज्येष्ठ पुत्र और शिवहर से राजद विधायक चेतन आनंद,अधिवक्ता पुत्री सुरभि आनंद के आह्वान पर आज 11:30 बजे से रिलीज आनंद मोहन,जस्टिस फ़ॉर आनंद मोहन हैशटैग करते हुए उपवास पर आनंद समर्थक बैठे और सोशल मीडिया फेसबुक,ट्विटर,इंस्टाग्राम पर फ़ोटो शेयर करते हुए रिहाई की मांग की।विधायक पुत्र चेतन आनंद एवं अधिवक्ता पुत्री सुरभि आनंद ने बताया है कि पूर्व सांसद, साहित्यकार पिता आनंद मोहन की सजा की अवधि 17 मई 2021 को ही पूरी हो गई थी. फिर राज्य सरकार उन्हें जेल से मुक्त नहीं कर रही है. अबतक रिहाई हो जानी चाहिए थी.आज उन्हें राजनीति का शिकार बनाया जा रहा है. यही कारण है कि उन्हें जेल से रिहा करने में अनावश्यक बिलंब किया जा रहा है. इसी राजनीति साजिश के विरोध में बिहार सहित देशभर में फ्रेंड्स ऑफ आनंद के कार्यकर्ताओं ने आज अपने परिवार के साथ उपवास किया है. इतना ही नहीं, जेल से रिहा करने की मांग को लेकर आनंद मोहन के बिहार के तमाम समर्थक व कार्यकर्ता भूख हड़ताल पर रहे।