मधुबनी – सिविल सर्जन के द्वारा जिला के दो स्वास्थ्य कर्मियों को किया निलंबित

 सिविल सर्जन,मधुबनी के द्वारा जिला के दो कर्मियों श्री रामसुंदर मंडल बुनियादी स्वास्थ्य कार्यकर्ता एवम्  मो0 फूल हसन चतुर्वर्गिय कर्मचारी,प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, बाबुबरही को निलंबित क़िया गया।
                    उल्लेखनीय है कि covid-19 की संक्रमित मरीजों के उपचार हेतु  संचालित कोविड केयर सेंटर/डेडिकेटेड  कोविड  हेल्थ सेंटर रामपट्टी  के सुचारू रूप से संचालन हेतु श्री राजसुन्दर मंडल,  बुनियादी स्वास्थ्य कार्यकर्ता एवं श्री मो0 फूल हसन, चतुर्थ वर्गीय कर्मचारी, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र, बाबूबरही की प्रतिनियुक्ति की गयी थी। प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र, बाबूबरही को उन्हें विरमित करने एवं योगदान देने हेतु निदेशित किया गया। परन्तु विरमन के आदेश के बावजूद श्री राजसुन्दर मंडल एवं श्री मो0 फूल हसन द्वारा कोविड केयर सेन्टर रामपट्टी में योगदान नहीं किया गया। इस संबंध में श्री राजसुन्दर मंडल, बुनियादी स्वास्थ्य कार्यकर्ता एवं श्री मो0 फुल हसन, चतुर्थ वर्गीय कर्मचारी, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र, बाबूबरही से प्राप्त स्पष्टीकरण अंसतोषप्रद रहने, उनके द्वारा वैश्विक महामारी की आपदा की स्थिति में उच्चामई 2021, मधुबनी: सिविल सर्जन, मधुबनी के द्वारा जिला के दो कर्मियों श्री रामसुंदर मंडल बुनियादी स्वास्थ्य कार्यकर्ता एवम् मो0 फूल हसन चतुर्वर्गिय कर्मचारी,प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र, बाबुबरही को निलंबित क़िया गया।
उल्लेखनीय है कि covid-19 की संक्रमित मरीजों के उपचार हेतु संचालित कोविड केयर सेंटर/डेडिकेटेड कोविड हेल्थ सेंटर रामपट्टी के सुचारू रूप से संचालन हेतु श्री राजसुन्दर मंडल, बुनियादी
स्वास्थ्य कार्यकर्ता एवं श्री मो0 फूल हसन, चतुर्थ वर्गीय कर्मचारी, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र, बाबूबरही की प्रतिनियुक्ति की गयी थी। प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र, बाबूबरही को उन्हें विरमित करने एवं योगदान देने हेतु निदेशित किया गया। परन्तु विरमन के आदेश के बावजूद श्री राजसुन्दर मंडल एवं श्री मो0 फूल हसन द्वारा कोविड केयर सेन्टर रामपट्टी में योगदान नहीं किया गया। इस संबंध में श्री राजसुन्दर मंडल, बुनियादी स्वास्थ्य कार्यकर्ता एवं श्री मो0 फुल हसन, चतुर्थ वर्गीय कर्मचारी, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र, बाबूबरही से प्राप्त स्पष्टीकरण अंसतोषप्रद रहने, उनके द्वारा वैश्विक महामारी की आपदा की स्थिति में उच्चाधिकारियों के आदेश का उल्लंघन करने, एवं वैश्विक महामारी जैसी आपदा में कोरोना संक्रमित मरीजों को स्वास्थ्य सुविघा उपलब्ध कराने में व्यवधान उत्पन्न करने का घोतक होने के कारण तत्काल प्रभार से निलंबित करते विभागीय कार्रवाई प्रारंभ करने का निर्णय सिविल सर्जन, मधुबनी द्वारा लिया गया।