कोरोना संक्रमण के विरूद्ध लड़ाई में सबसे कारगर एवं एकमात्र अस्त्र टीकाकरण है: कौशल कुमार

प्रथम डोज का जिन्होंने टीका लिया है उनमें संक्रमण काफी कम है
सहरसा : कोरोना संक्रमण के विरूद्ध लड़ाई में सबसे कारगर एवं एकमात्र अस्त्र टीकाकरण है। समुदाय में जाकर भ्रांतियों को दूर करते हुए अधिक से अधिक व्यक्तियों को टीकाकरण के लिए उन्हें जागरूक एवं प्रेरित करें।
आज जिलाधिकारी कौशल कुमार अपने कार्यालय कक्ष से वर्चुअल मीटिंग के माध्यम से सभी पंचायत के मुखिया को उक्त निर्देष दे रहे थे। उन्होंने कहा कि आप अवगत हैं जिन्होंने प्रथम डोज का जिन्होंने टीका लिया है उनमें संक्रमण काफी कम है। यदि वे संक्रमित हो भी रहे हैं तो उनमें कोई गम्भीर लक्षण नहीं है। अब तक जिले में सात हजार से अधिक व्यक्ति संक्रमित हुए हैं और उनमें से करीब 2500 व्यक्ति वर्तमान में सक्रिय पाॅजिटिव हैं। अब तक कोरोना संक्रमण से 30 व्यक्तियों की मृत्यु हुई है जिनमंे से 60 से अधिक आयुवर्ग के 15 व्यक्ति ऐसे थे जिन्होंने टीका नहीं लिया था। यदि वे टीका लिये होते तो हो सकता है उनकी मृत्यु नहीं होती। कोरोना संक्रमण के विरूद्ध जंग में सबसे महत्वपूर्ण जरिया और एकमात्र उपाय टीकाकरण हीं है।       जिलाधिकारी ने आगे कहा कि समीक्षा में यह पाया जा रहा है कि लोगों में टीकाकरण के प्रति उत्साह में कमी आई है और उनमें कई तरह की भ्रांतियां टीकाकरण को लेकर पाई जा रही है खासकर महादलित समुदाय के बीच। यह काफी चिंताजनक है। लोगों को टीकाकरण के प्रति जागरूक करने एवं प्रेरित करने में पंचायत मुखिया की सबसे अधिक महत्वपूर्ण भूमिका है। क्योंकि आप जनता के प्रतिनिधि हैं और उनके बीच में हीं रहते हैं। सभी मुखियागण से अनुरोध है कि लोगों के बीच जाकर उन्हें सही जानकारियां दें। क्षेत्र में भ्रमण कर लोगों को जागरूक करें, उनकी भ्रांतियों को दूर करते हुए अधिक से अधिक व्यक्तियों के टीकाकरण में अपना सक्रिय सहयोग दें। जिले में अब तक एक लाख बाइस हजार छः सौ तेहतर लोगों को पहला डोज एवं 28690 लोगों को द्वितीय डोज का टीकाकरण कराया है। टीकाकरण कराये हुए व्यक्तियों में किसी प्रकार का कोई भी गम्भीर प्रभाव नहीं पाया गया है।                                                                जिलाधिकारी ने सभी मुखियागण से अनुरोध किया कि क्षेत्र में जहां भी टीकाकरण हेतु सेशन साइट आयोजित किये जा रहे हैं वहां के लोगों को अधिक से अधिक संख्या में टीकाकरण हेतु जागरूक एवं प्रेरित करें। लोगों के बीच इस संबंध में सही जानकारी एवं संदेष दें। हम सभी आमजन के हित में कार्य करते है। अतः हम सभी का यह परम कर्तव्य है कि अधिक से अधिक लोगों का टीकाकरण कराते हुए उन्हें सुरक्षित करें। वर्तमान लाॅक डाउन अवधि में 11ः00 बजे के पष्चात टीकाकरण के लिए घर से निकलने पर रोक नहीं है। सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी क्षेत्र स्तर पर टीकाकरण सेषन साइट के आयोजन की पूर्व सूचना संबंधित पंचायत के मुखिया को देंगे ताकि वे निर्धारित तिथि एवं स्थल पर उस क्षेत्र के लोगों को टीकाकरण हेतु अपने स्तर से प्रेरित करेंगे। जागरूकता के लिए लोगों के बीच जागरूकता रथ का भी परिचालन कराया जाएगा। सभी सामूहिक प्रयास से हीं सहरसा जिला में टीकाकरण को सफल बनाया जाएगा।                                जिलाधिकारी द्वारा इस संबंध में अपने सुझाव देने के निर्देश पर जिला मुखिया संघ के अध्यक्ष ने आष्वस्त किया कि वे मुखिया संघ की बैठक कर लोगों को जागरूक करते हुए अधिक से अधिक संख्या में टीकाकरण हेतु अपना भरपूर सहयोग प्रदान करेंगे।           वर्चुअल मीटिंग के अवसर पर सभी प्रखंडों के प्रखंड विकास पदाधिकारी, प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी, प्रखंड स्वास्थ्य प्रबंधक एवं अन्य उपस्थित थे।