अधिवक्ता दयाकान्त तांती के निधन पर पूर्व विधायक किशोर कुमार ने जताया शोक

282

घर पहुंचकर सांत्वना दी

सहरसा : नव निर्माण मंच के संस्थापक और पूर्व विधायक किशोर कुमार ने आज सहरसा झपरा टोला के अधिवक्ता, सरकारी कर्मचारी दयाकान्त तांती के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया। इस दौरान उन्होंने अपने शोक संदेश में कहा कि दयाकान्त तांती का निधन सहरसा के लिए अपूरणीय क्षति है। कल 82 वर्ष की उम्र में उनका निधन हो गया। वो जीवन प्रयत्न गरीबों के पक्ष में लड़ते रहे। वो कृषि विभाग में वानिकी सुपरवायजर थे। उन्होंने वकालत की और फ्री में लोगों को सलाह दिया करते थे।

किशोर कुमार ने कहा कि वो सच्चे समाजवादी थे। समाजवाद के आंदोलन में बढ़चढ़ कर भाग लेते थे। और हमेशा समाजवाद की बात करते थे। बेबाकी से बोलते थे। जो सही होता था, सत्य के पक्ष में हमेशा खड़ा होते थे। पिछली बार नवनिर्माण मंच सहरसा द्वारा वरिष्ठ नागरिकों को, जिनका समाज में बड़ा योगदान था – उनको सम्मानित करने का बड़ा फैसला लिया गया था। उसमें हमारे द्वारा दयाकान्त तांती जी को सम्मानित किया गया था। उनके जाने से एक युग का अंत हुआ है। जिस जाति समाज मे जन्म लिए थे, ज्यादातर लोग उसमें गरीब और कमोजर हैं। उसके वे बड़े नेता थे ।

उन्होंने कहा कि दयाकान्त बाबू सामाजिक मान्यता भी खूब था। वे निष्पक्षता से पंचायत करते थे। उनका जाना सहरसा के लिए अपूरणीय क्षति है। आज मैं उनके घर पहुंचकर सांत्वना दी और श्रद्धाजंलि दी। इस संकट की घड़ी में ईश्वर उन्हें अपने श्री चरणों में जगह दे और परिवार को सबल दे।