जिले में 3748 कोरोना संक्रमण के मामले आए हैं जिसमें 1788 लोग ठीक हो चुके हैं : ज़िला पदाधिकारी

369

बढ़ते कोरोना मामलों को देख जिलाधिकारी ने विडियो जारी कर दी अद्यतन रिपोर्ट

सहरसा: जिले में कोरोना संक्रमण के मामलों में प्रतिदिन हो रही वृद्धि के मद्देनजर जिलाधिकारी कौशल कुमार ने कोरोना मामलों की अद्यतन रिपोर्ट विडियो द्वारा जारी की है । जिसमें उन्होंने बताया कल यानि 27 अप्रैल को सहरसा में 293 नये कोरोना संक्रमण के मामले पाये गये थे| साथ ही साथ 229 वैसे कोरोना संक्रमित मरीज जिनका इलाज चल रहा था, रिकभर कर गये और उन्हें डिस्चार्ज कर दिया गया है।9 मार्च से अभी तक जिले में कुल 3748 कोरोना संक्रमण के मामले पाये गये
अपने अद्यतन रिपोर्ट में जिलाधिकारी ने बताया 9 मार्च से अभी तक जिले में कुल 3748 कोरोना संक्रमण के मामले पाये गये हैं। जिनमें से 1788 लोग ठीक हो चुके हैं वहीं 24 लोगों को बेहतर इलाज के लिए उच्च स्वास्थ्य संस्थानों में रेफर किया गया है और जिले में अबतक कुल 9 लोगों की मृत्यु कोरोना से हुई है। इस प्रकार आज के दिन जिले में कुल एक्टिव मामलों की संख्या 1927 है जिनका इलाज होम आइसोलशन एवं डेडिकेटेड कोविड सेन्टरों में चल रहा है।जिले में कुल 75916 नमूनों की जांच हुई जिसमें 4.92 प्रतिशत मामले पाॅजिटिव
आगे जिलाधिकारी ने बताया 9 मार्च से अबतक जिले में कुल 75916 नमूनों की जांच की गई है जिसमें से 4.92 प्रतिशत मामले पाॅजिटिव पाये गये हैं। जिले में अभी 571 कंटेनमेंट जोन हैं जिनमें से 278 शहरी एवं 293 ग्रामीण क्षेत्रों में हैं।3729 लोगों को वैक्सीन की पहली डोज एवं 1524 लोगों को दूसरी डोज-
कोविड वैक्सीनेशन के बारे में जानकारी देते हुए जिलाधिकारी ने बताया बीते दिन 3748 लोगों को वैक्सीन की पहली डोज एवं 1524 लोगों को दूसरी डोज दी गयी है, इस प्रकार अब तक जिले में कुल 108766 लोगों को पहला डोज एवं 17405 लोगों को दूसरा डोज दिया जा चुका है।

डीएम कौशल कुमार

मास्क पहनकर ही बाहर निकलें, काम खत्म होने के बाद तुरंत अपने घरों में जायें।
जिले में खासकर शहरी इलाकों में कोरोना संक्रमण के लगातार बढ़ते मामलों की जानकारी देते हुए जिलाधिकारी कौशल कुमार ने जिलेवासियों से भीड़-भाड़ से बचने की सलाह देते हुए कहा अनावश्यक घर से बाहर न निकलें| आवश्यक होने की स्थिति में मास्क पहनकर ही बाहर निकलें, काम खत्म होने के बाद तुरंत अपने घरों में जायें। अभी व्यक्तिगत सावधानी की बहुत अधिक आवश्यकता है, आपलोग सावधान रहेंगे तभी हमलोग करोना संक्रमण को कंट्रोल करने में सक्षम होंगे। अपने अनुरोध में कौशल कुमार ने कहा यदि आपमें कोरोना के कोई शुरुआती लक्षण जैसे- खांसी, बुखार, सर्दी दिखे तो इसे हल्के में न लें, यथाशीघ्र नजदीकी कोविड टेस्ट सेन्टरों में अपना कोविड टेस्ट करवायें ताकि इसकी पुष्टि हो सके कि ये लक्षण आपमें कोरोना से है या नहीं। यदि कोरोना से है तो ससमय इसका इलाज कर सकें। इस प्रकार ससमय टेस्टिंग एवं ससमय पुष्टि बहुत जरूरी है इलाज कर आपकी जान बचाने के लिए। अंत में जिलाधिकारी ने जिलेवासियों से जिला प्रशासन द्वारा जारी गाइडलाइन का अक्षरशः पालन करने का अनुरोध किया ताकि कोरोना संक्रमण को रोका जा सके।