ज़िले में कोरोना संक्रमण की स्थिति चिंताजनक : जिला पदाधिकारी

1197
ज़िले में कोरोना संक्रमित कुल मरीज की संख्या 2175
सहरसा : ज़िले में कोरोना संक्रमण में हो रहे अप्रत्याशित वृद्धि एवं प्रसार को लेकर जिला पदाधिकारी कौशल कुमार ने वीडियो संदेश के माध्यम से जानकारी देते हुए कहा कि 21 अप्रैल को ज़िले में कोरोना के 157 एक्टिव मरीज चिन्हित किये गये हैं। वहीं कल 137 पाॅजिटिव मरीजों को उपचार के उपरांत डिस्चार्ज किया गया है। इस प्रकार विगत 09 मार्च 21 के बाद से अब तक कुल 2115 पाॅजिटिव मरीजों को चिन्हित किया गया। उपचार के उपरांत स्वस्थ्य होने वाले व्यक्तियों की संख्या 676 है। 19 पाॅजिटिव मरीजों को बेहतर ईलाज के लिए मधेपुरा मेडिकल काॅलेज रेफर किये गये हैं। अभी तक कुल-5 (पाँच) व्यक्तियों का कोरोना संक्रमण के कारण मृत्यु हुई है। वर्तमान में 1416 सक्रिय पाॅजिटिव मरीज हैं जिनका ईलाज होम आइसोलेशन में चल रहा है। जिलान्तर्गत सक्रिय कन्टेनमेनट जोन की संख्या 308 है जिसमें शहरी क्षेत्र में 154 एवं ग्रामीण क्षेत्र में 154 कन्टेनमेनट जोन बनाये गये हैं। कोविड टीकाकरण का भी कार्यक्रम साथ-साथ चलाये जा रहे हैं। कल 2012 व्यक्तियों को प्रथम डोज एवं 518 व्यक्तियों को द्वितीय डोज का टीकाकरण किया गया है। अबतक 96,543 व्यक्तियों को प्रथम डोज एवं 13,240 व्यक्तियों को द्वितीय डोज का टीकाकरण किया गया है।

जिलाधिकारी ने कहा कि अभी भी जिले में कोरोना संक्रमण की स्थिति चिंताजनक बनी हुई है। सभी नागरिकों से अपील है कि भीड़-भाड़ वाले इलाकों में ना जाएं अपने घरों में हीं रहें। यदि आवष्यक कार्य से घर से बाहर निकलना पड़े तो मास्क जरूर पहनकर निकलें। अभी व्यक्तिगत सावधानी सबसे जरूरी है और इसी से हम इस महामारी पर नियंत्रण पा सकते हैं।                                                                  सहरसा जिले में कोरोना संक्रमण के गम्भीर मरीजों के लिए आक्सीजन उपलब्धता के संबंध में जिलाधिकारी ने कहा कि जिलान्तर्गत तीन गैस एजेंसी हैं जो निजी एवं सरकारी अस्पतालों को आक्सीजन सिलेन्डर की आपूर्ति करती है। कोशी गैस एजेंसी, तोमर गैस एजेंसी एवं आलम गैस एजेंसी दरभंगा स्थित प्लांट से आक्सीजन गैस रिफील कर जिले में वितरण का कार्य करते हैं। थोड़ी समस्या उत्पन्न हुई थी जिसका निराकरण कर लिया गया है। निर्णय लिये गये हैं कि सभी गैस एजेंसियों को प्राप्त गैस सिलेंडर जिला प्रशासन अपनी देख-रेख एवं निगरानी में रखेगा ताकि आक्सीजन गैस के वितरण एवं उपलब्धता पर नियंत्रण रखा जा सके। आज कोशी गैस एजेंसी को दरभंगा से 50 सिलेंडर प्राप्त हुए हैं वहीं आलम गैस एजेंसी को आज संध्या तक 100 सिलेंडर भागलपुर से प्राप्त होगा। लिक्विड आॅक्सीजन जिससे आॅक्सीजन सिलंेडर तैयार की जाती है दरभंगा स्थित प्लांट में आज उपलब्ध हो जाएगा। जहां से सहरसा जिला के लिए आॅक्सीजन गैस सिलेंडर की आपूर्ति निर्धारित है। इस प्रकार जिला को आॅक्सीजन गैस सिलंेडर नियमित रूप से मिलने लगेगा और आॅक्सीजन की कमी नहीं होगी।

बंद आईसीयू

सदर अस्पताल में आइसीयू एवं वेन्टिलेटर मषीन के संचालन हेतु राज्य स्तर से टेक्निषियन की मांग की गई है। टेक्निषियन प्राप्त होते हीं सूचारू संचालन आरंभ कर दिया जाएगा। कोविड मरीजों के ईलाज के लिए जिले के 8 निजी अस्पतालों से आवेदन प्राप्त हुए हैं जहां कोविड मरीजों के ईलाज के लिए 82 बेड जिसमें 12 आईसीयू बेड भी सम्मिलित हैं उपलब्ध कराने का निर्णय निजी अस्पतालों द्वारा लिया गया है।  निजी अस्पतालों द्वारा उपलब्ध कराये जाने वाले बेड, आइसीयू एवं चिकित्सीय सुविधा से कोविड के गम्भीर मरीजों को जिला में हीं बेहतर ईलाज का विकल्प मिलेगा।