92 वर्षीय वृद्ध महिला ने ली कोविड-19 टीके की पहली खुराक 

1017

टीका लगने के बाद लोगों से टीका लगवाने की अपील की

92 वर्षीय वृद्ध महिला किरण देवी संभवत: कोविड- 19 टीका लगवाने वाली सहरसा जिले की सबसे बुजुर्ग महिला हैं।

सहरसा :  सदर अस्पताल स्थित पारा मेडिकल कॉलेज मे चल रहे कोविड-19 टीके की पहली खुराक लेने के बाद 92 वर्षीय वृद्ध महिला किरण देवी ने कहा कि टीका लगवाने से कोई दिक्कत नहीं हुई, जैसे मैंने लगवाया वैसे आप भी लगवाओ, तभी संक्रमण जाएगा। किरण देवी संभवत: कोविड- 19 टीका लगवाने वाली सहरसा जिले की सबसे बुजुर्ग महिला हैं।

टीका लेने के बाद भी एहतियात बरतें:

92 वर्षीय वृद्ध महिला किरण देवी ने कहा का टीका लेने के बाद एहतियात बरतना चाहिए| सावधानी बरतने में किसी तरह की बुराई नहीं है| मास्क पहनने से ना सिर्फ कोरोना से बचाव होता है, बल्कि दूसरी बीमारियों से भी हम लोग बचे रहते हैं| इसलिए मास्क जरूर पहने| सामाजिक दूरी का पालन करने से संक्रामक बीमारियों से लोगों का बचाव होता है तथा मौके पर मौजूद जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डाक्टर कुमार विवेकानंद ने कहा कि 92 वर्षीय वृद्ध महिला किरण देवी कोविड- 19 टीके का पहला डोज लिया तथा आघे घंटे तक ऑब्जरवेशन में बैठाया गया आधे घंटे के बाद उनसे पूछने पर क्या आपको कोई दिक्कत है उन्होंने कहा मुझे कोई दिक्कत नहीं है 92 वर्षीय वृद्ध महिला किरण देवी ने टीका लेकर समाज के लिए एक संदेश दिया की टीका लोगों के लिए सुरक्षित है।

दूसरे डोज के लिए मिलेगा आठ सप्ताह का समय:

जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ. कुमार विवेकानंद ने बताया कि कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए लगाए जा रहे टीका का दो डोज लेना सभी के लिए जरूरी है। पूर्व में पहला डोज लेने के चार सप्ताह यानी 28 दिन बाद लोगों को दूसरा डोज लगाया जाता था लेकिन अब लोगों को दूसरे डोज लेने के लिए आठ सप्ताह यानी 56 दिन का समय दिया जाएगा। इतने समय बाद तक कोई भी व्यक्ति अपने नजदीकी टीकाकरण स्थल पर टीका लगवा सकते हैं।

मौके पर जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ. कुमार विवेकानंद,यूएनडीपी के भीसीसीएम मोहम्मद मुमताज खालिद,केयर , स्वास्थ्य कर्मी आशीष कुमार सिंह तथा अन्य पदाधिकारी एवं कर्मी थे |

कोविड- 19 के टीका लेने के बाद भी कोविड- 19 के नियमों का पालन करे :

◆व्यक्तिगत स्वच्छता और 2 गज की शारीरिक दूरी बनाए रखें।
◆बार.बार हाथ धोने की आदत डालें।
◆साबुन और पानी से हाथ धोएं या अल्कोहल आधारित हैंड सैनिटाइजर का इस्तेमाल करें।
◆छींकते और खांसते समय अपनी नाक और मुंह को रूमाल या टिशू से ढकें ।
◆उपयोग किए गए टिशू को उपयोग के तुरंत बाद बंद डिब्बे में फेंके।
◆घर से निकलते समय मास्क का इस्तेमाल जरूर करें।
◆ बातचीत के दौरान फ्लू जैसे लक्षण वाले व्यक्तियों से कम से कम 2 गज की दूरी बनाए रखें।
◆आंख नाक एवं मुंह को छूने से बचें।
◆मास्क को बार.बार छूने से बचें एवं मास्क को मुँह से हटाकर चेहरे के ऊपर-नीचे न करें ।