बढ़ते कोरोना संक्रमण को लेकर वैक्सीनेशन कार्य में तेजी लाने का निर्णय

281

डीएम कौशल कुमार ने पार्षदों के साथ कि बैठक

सहरसा: नगर परिषद क्षेत्र में बढ़ते कोरोना संक्रमण को लेकर जिलाधिकारी कौशल कुमार ने रविवार को नगर परिषद सभा भवन में वार्ड पार्षदों को संबोधित कर कहा कि वैक्सीनेशन का कार्य तेज किया जायेगा। अगले दो से तीन दिनों के अंदर सभी वार्ड में 45 वर्ष से ऊपर के लोगों को वैक्सीन दिया जाएगा। इसको लेकर उन्होंने सभी वार्ड पार्षदों को अपने-अपने वार्डों में लोगों को जागरूक करते हुए वैक्सीनेशन कराने की बात कही। उन्होंने कहा कि जिले में कुल 47 कोरोना के एक्टिव मामले हैं। जिनमें नगर परिषद क्षेत्र में 36 मामले हैं। इनमें अधिकांश मामले कांटेक्ट ट्रेसिंग के पाए गए हैं। उन्होंने बताया कि होली के बाद कोरोना संक्रमण का ग्राफ बढ़ा है। फिर से लॉक डाउन की स्थिति नहीं आए इसको लेकर सभी को जागरूक बनाने की जरूरत है। उन्होंने बताया कि लगभग 56 हजार लोगों का टीकाकरण पूरे जिले में किया गया है। जिनमें पदाधिकारी एवं स्वास्थ्य कर्मी सहित वरिष्ठ नागरिक शामिल हैं।उन्होंने कहा कि ऐसा देखा जा रहा है कि जिन्होंने टीका लिया है उन्हें संक्रमण नहीं हुआ है। इससे साफ पता चलता है की टीका पूरी तरह सुरक्षित है। लेकिन इसके साथ कोरोना के नियमों का पालन जरूरी है। उन्होंने वार्ड पार्षदों से अपील किया कि वे अपने वार्डों में लोगों को समझाएं कि पूरे अप्रैल माह तक आवश्यक होने पर ही घरों से निकले। साथ ही कोरोना के सभी गाइडलाइन का पालन करें। उन्होंने बताया कि नगर परिषद क्षेत्र में वैक्सीनेशन को लेकर 14 टीमों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है। अगले दो से तीन दिनों में नगर परिषद में 16 टीमों के माध्यम से टीकाकरण का कार्य शुरू होगा। एक टीम द्वारा प्रति दिन कम से कम 250 से लेकर 300 लोगों का टीकाकरण करेगा। सभी वार्ड पार्षद सक्रिय रूप से योगदान देकर लोगों का टीकाकरण करवा दें। उन्होंने बताया कि शहरी क्षेत्र में गांधी पथ एवं डीबी रोड में अधिकांश कोरोना संक्रमित मरीज पाए गए हैं।जिसको लेकर छोटे-छोटे कंटेनमेंट जोन बनाए गए हैं। संक्रमित मरीज के चारों तरफ से तीन-चार घरों को मिलाकर कंटेनमेंट जोन बनाया गया है। जिससे लोगों को असुविधा ना हो। उन्होंने कहा कि अभी जिले में वैसी स्थिति नहीं आयी है कि लॉकडाउन लगाया जाए।

लेकिन ऐसी स्थिति ना आवे इसको लेकर लोगों को जागरूक रहने की जरूरत है। बिना मास्क के घरों से नहीं निकलेंं।सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें एवं समय-समय पर हाथ धोते रहे। वहीं सिविल सर्जन डॉ अवधेश कुमार ने कहा कि ऐसा सुनने में आ रहा है कि कोरोना संक्रमित मरीज बाजारों में घूम रहे हैं। वैसे लोगों को सामाजिक स्तर से समझाने की जरूरत है। संक्रमित जब तक पूरी तरह स्वस्थ नहीं हो जाते पूरी तरह कोरोनटाइन रहेंं। मौके पर नगर परिषद अध्यक्ष रेणु सिन्हा, नगर परिषद कार्यपालक पदाधिकारी प्रभात रंजन, उपाध्यक्ष उमेश यादव, सिविल सर्जन डॉक्टर अवधेश कुमार,जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ. कुमार विवेकानंद, यूएनडीपी के भीसीसएम मोहम्मद मुमताज खालिद तथा जिला स्वास्थ्य समिति के जिला अनुश्रवण मूल्यांकन पदाधिकारी कंचन कुमारी,डीपीएम विनय रंजन, वार्ड पार्षद रेशमा शर्मा, प्रतिनिधि टीपू झा, कुमार आशीष,संतोष चौधरी,ब्रजकिशोर सिंह सहित अन्य मौजूद थे।