Executive assistants ने समाहरणालय गेट पर किया प्रदर्शन,जलाई प्रतियाँ

400
बीपीएसम द्वारा जारी पत्र की प्रतियां जलाई
सहरसा@रितेश हन्नी : बिहार राज्य कार्यपालक सहायक सेवा संघ के बैनर तले कार्यपालक सहायकों द्वारा जारी हड़ताल के नौवें दिन सहरसा स्टेडियम में हड़ताल पर बैठे कार्यपालक सहायकों ने द्वारा समाहरणालय गेट पर बिहार सरकार के खिलाफ जबरदस्त विरोध प्रदर्शन किया। इस दौरान सैकड़ों की तादाद में शामिल संविदा पर बहाल कार्यपालक सहायकों ने बिहार सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की एवं बीपीएसम द्वारा जारी पत्र की प्रतियां जलाई। प्रदर्शन कर रहे लोगों का कहना था कि सरकार द्वारा संविदा पर बहाल कर्मियों को आउटसोर्सिंग एजेंसी बेल्ट्रॉन के हाथों सौपनें की तैयारी का विरोध कर रहें हैं। कार्यपालक सहायकों का कहना है कि हमलोग परीक्षा देकर आदर्श आरक्षण रोस्टर का पालन करते हुए हमलोगों की संविदा पर बहाली हुई थी। इसके बाद सरकार एक षड्यंत्र के तहत हमलोगों को बेल्ट्रॉन में मर्ज करना चाहती है।
 विरोध प्रदर्शन की अगुवाई कर रहे बिहार राज्य कार्यपालक सहायक सेवा संघ जिलाध्यक्ष कुंदन कुमार ने कहा कि प्रधान सचिव द्वारा एक पत्र जारी किया गया है। जारी पत्र के  माध्यम से सभी जिले के जिलाधिकारियों को आदेश दिया गया है कि जो भी कार्यपालक सहायक 15 मार्च से हड़ताल पर है उन्हें पुनः काम पर वापस बुलाया जाय,उन्हें काम पर पुनः वापस आने के लिए प्रेरित किया जाय जो कि काला आदेश समान है।  उन्होंने कहा कि एक तो सरकार हमलोगों की माँगे सुन नहीं रही है और नये-नये आदेश जारी कर रही है।
श्री कुमार ने कहा कि हमलोगों की सरकार से यही मांग है कि इसपर रोक लगे और हमलोगों को उचित मान सम्मान मिले जब तक सरकार हम लोगों की मांगे पूरी नहीं पड़ती है तब तक हमलोगों का आंदोलन इसी तरह जारी रहेगा।
विरोध प्रदर्शन में संघ के सचिव संजीव कुमार सिंह, कोषाध्यक्ष प्रतीक कर्ण,भास्कर कुमार, अमित कुमार, अंकित कुमार, रूबी कुमारी, रूपा कुमारी, सुधा कुमारी, निशा शेखर, रितिका कुमारी, वंदना कुमारी, उपाध्यक्ष मो. इमामुद्दीन, दिनकर कुमार, रितेश कुमार, आशीष कुमार, रवि कुमार, रिकु कुमार, सौरभ कुमार, राज आनंद, गंधर्व कुमार, अजय कुमार, कुमारी प्रेमलता, गौतम प्रकाश सहित अन्य शामिल थे।