जरूरी है कोविड वैक्सीन का दोनों डोज लेना : सिविल सर्जन

727

जिले में अबतक 23616 लाभुकों को प्रथम डोज तथा 5732 लाभुकों को दिया का चुका है दूसरा डोज
सिविल सर्जन एवं जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी ने लोगों से टीके के दोनों डोज लेने की अपील की

शनिवार को वृद्धजनों एवम् अन्य लाभुकों के कोविड-19 टीकाकरण के लिए संचालित किए गए 31 सत्र स्थल

सहरसा :शनिवार को सदर अस्पताल समेत कुल 31 स्थानों पर कोरोना टीकाकरण केंद्र संचालित किया गया। इसमें सबसे अधिक सदर अस्पताल में स्वास्थ्य कर्मियों एवम् अन्य ने वैक्सीन लगवाया। सिविल सर्जन डॉ अवधेश कुमार ने बताया उन्होंने पूर्व में जिन लोगों ने पहली डोज लगवाई थी, उन्हें जिले के सभी 31 टीकाकरण केंद्र पर दूसरा डोज देने का कार्य शनिवार को किया गया। टीकाकरण के उपरांत किसी तरह का साइड इफेक्ट की सूचना सामने नहीं आयी है। लोगों को वैक्सीनेशन से डरने की जरूरत नहीं है। लोगों को अपनी बारी पर वैक्सीन लगवानी चाहिए। सीएस ने कहा वैक्सीन का दोनों डोज लेना जरूरी है। तभी यह टीकाकरण अभियान सफल हो पाएगा। उन्होंने कहा टीकाकरण में सभी लाभुक उत्साहपूर्वक टीका लगवा रहे है। टीका पूरी तरह सुरक्षित है। उन्होंने कहा किसी भी अफवाह या भ्रांति पर ध्यान न दें। टीके से किसी भी तरह की कोई दिक्कत नहीं है., कोरोना से बचाव के लिए यह बहुत जरूरी है।

फिर बढ़ने लगे हैं कोरोना के नए मामले, बरतें एतिहात-

सिविल सर्जन ने कहा जिले में कोरोना के नए मामले फिर से आने शुरू हुए हैं जो पहले बेहद कम थे। कोविड से लड़ाई में हम संक्रमण के दौरान दिन रात काम कर रहे हैं । वैक्सीन का लाभ चरणबद्ध तरीके से लाभुकों को दिया जा रहा है। जिन लोगों का टीकाकरण होना है, वह लापरवाही न बरतें। कोविड टीकाकरण के जरिए ही कोरोना के वायरस से बचा जा सकता है। साथ ही कोविड- 19 के नियमों का पालन करते रहें ।

जिले में कोविड टीकाकरण की स्थिति –

जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ कुमार विवेकानंद ने कहा कि जिले में 16 जनवरी से 19 मार्च तक कुल 7348 स्वास्थ्यकर्मियों को प्रथम डोज तथा 4855 लाभुकों को वैक्सीन का दूसरा डोज दिया जा चुका है। वहीं फ्रंटलाइन वर्कर की बात की जाए तो 6 फरवरी से 19 मार्च तक 2636 फ्रंटलाइन वर्कर को प्रथम डोज तथा 864 को दूसरा डोज दिया गया है । गंभीर बीमारी से ग्रसित 45 से 59 आयुवर्ग के 1381 तथा 60 वर्ष के ऊपर के 11531 लाभुकों ने प्रथम डोज का टीका लिया है। अर्थात जिले के कुल 23616 लाभुकों ने प्रथम डोज तथा 5732 लाभुकों को वैक्सीन का दूसरा डोज दिया गया है। जिले में ए ईएफआई यानी टीका लेने के बाद किसी गंभीर साइड इफ़ेक्ट की संख्या शून्य है। जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ कुमार विवेकानंद ने लोगों से कोविड- 19 टीका की दोनों डोज लेने की अपील की एवम् कोविड- 19 के नियमों का पालन करते रहने के लिए कहा है।