बैठक में सघन मास्क चेकिंग अभियान चलाने का डीएम ने दिया निर्देश

1840
वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के तहत बीडीओ,सीओ,एसएचओ और मुखिया के साथ कि बैठक 
सहरसा : जिलाधिकारी कौशल कुमार ने वीडीयो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से जिले के सभी अंचल अधिकारी, प्रखंड विकास पदाधिकारी, थाना प्रभारी, बीएचएम एवं मुखिया के साथ कोविड-19 के संभावित संक्रमण के रोकथाम, कोविड टीकाकरण, मास्क चेकिंग अभियान, शराबबंदी एवं पंचायत चुनाव के संदर्भ में बैठक की।
इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक लिपि सिंह,उप विकास आयुक्त राजेश कुमार सिंह,सीविल सर्जन अवधेश कुमार सिंह,सदर अनुमंडल पदाधिकारी शम्भूनाथ झा,उत्पाद अधीक्षक अमृता प्रीतम,डीपीएम विनय रंजन सहित अन्य भी उपस्थित थे।
जिलाधिकारी ने कहा कि विगत पूरा वर्ष कोविड-19 संक्रमण के प्रबंधन में बीता है। पुनः सहरसा जिला एवं बिहार राज्य में संक्रमण के मामले मिलने लगे हैं। इसलिए यह जरूरी है कि सभी को इस संबंध में जागरूक किया जाय। विगत वर्ष अन्य राज्यों से काफी संख्या में जिला में श्रमिक आये थे। जिन्हें क्वारंटाईन केन्द्रों पर रखने की व्यवस्था की गई थी। कोरोना संक्रमण की अधिक से अधिक संख्या में जाँच की गई। लगभग 97 प्रतिशत जिले का रिकवरी रेट रहा है। 08 फरवरी से 08 मार्च तक जिले में एक भी व्यक्ति संक्रमित नहीं थे ,लेकिन 08 मार्च को एक, 10 मार्च को दो और वर्तमान में अब तक 11 पाॅजिटिव में से 6 पाॅजिटिव मामले इस जिले में सक्रिय हैं।पाॅजिटिव व्यक्तियों के कान्टेक्ट टेस्टिंग में यह तथ्य प्रकाश में आया है कि वे सभी लोग बाहर से आये थे।    जिलाधिकारी ने कहा कि आगामी होली त्यौहार के अवसर पर काफी संख्या में लोग बाहर से अपने घर आएंगे। पंजाब, महाराष्ट्र, केरल, दिल्ली में काफी संख्या में संक्रमित मरीज मिल रहे हैं। इन क्षेत्रों से जो व्यक्ति जिले में आएंगे तो अन्य व्यक्तियों में संक्रमण की संभावना हो सकती है। आप सभी को कोविड-19 प्रबंधन में काफी अनुभव है। पूर्व की तरह हीं कार्य करना है। जो भी व्यक्ति कल से होली त्यौहार के बाद तक जिले में आएंगे उन सभी का निकटतम प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में कोविड जाँच जरूर कराएं। रेलवे स्टेशन, बस स्टेंड पर भी जाँच आरंभ कर दी गई है। बाहर से आने वाले सभी व्यक्तियों से अनुरोध करेंगे कि वे जाँच जरूर कराएं ऐसा ना हो कि लापरवाही के कारण पुनः वही स्थिति हो जाय। अगले पन्द्रह से बीस दिन काफी महत्वपूर्ण है। सभी मुखिया एव बीएचएम सचेत एवं सतर्क रहकर इस दिशा में कार्य करेंगे। हलांकि अभी स्थिति गंभीर नही है फिर भी सतर्क और सचेत रहने की आवष्यकता है। बाहर से आने वाले किसी को भी गलत दृष्टिकोण से ना देखें,लोगों में इस आशय का भी संदेश दें। वर्तमान में कोविड जाँच की व्यवस्था पूरी तरह से सुदृढ़ है। होली त्यौहार के समय काफी आयोजन होते हैं होली मिलन रंग गुलाल लगाने के संबंध में एडवाइजरी जारी कर रोक लगाई गई है। सभी व्यक्ति अपने-अपने घरों में सांकेतिक रूप से होली खेलें, सार्वजनिक रूप से आयोजन ना हो। ऐसा ना हो कि होली के उत्साह में संक्रमण बढ़ जाय।    कोविड टीकाकरण के संदर्भ में जिलाधिकारी ने कहा कि अन्य जिलों की तुलना में सहरसा जिला की प्रगति संतोषजनक है। टीकाकरण को लेकर भ्रांतियां मीट चूकी है। सभी प्रषासनिक अधिकारियों कुछ जनप्रतिनिधियों एवं साठ वर्ष से उपर के आयु के लोगों का टीकाकरण हुआ है। अब तक 13643 व्यक्तियों का टीकाकरण हो चूका है। वृद्धावस्था पेंषन योजना के लाभार्थियों का शत प्रतिषत टीकाकरण कराया जाना है। कुल-141000 लाभार्थियों में से मात्र 8000 का हीं टीकाकरण हुआ है जो संतोषजनक नही है। 60 वर्ष के आयु के लोग अधिक संवेदनषील होते हैं और कोरोना संक्रमण से मृत्यु होने की अधिक संभावना रहती है। सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर टीकाकरण हेतु सेसन साइट सृजित किये जा रहे हैं। सभी मुखियाजी से अनुरोध होगा कि वृद्धावस्था पेंषन के शत प्रतिषत लाभार्थियों का टीकाकरण कराएं। पंचायत स्तर पर भी तिथि का निर्धारण कर सेषन साइट सृजित कर टीकाकरण का कार्यक्रम आरंभ किये जाएंगे। तटबंध के अंदर वहां सेषन साइट क्रियेट कर टीकाकरण किया जाएगा। आगामी पंचायत चुनाव के मद्देनजर सभी जनप्रतिनिधियों को अनिवार्य रूप से टीकाकरण कराने का अनुरोध किया गया। वहीं उप विकास आयुक्त को पंचायत स्तर पर सेषन साइट सृजित कर टीकाकरण कार्यक्रम का अनुश्रवण एवं पर्यवेक्षण का निर्देष दिया गया।      जिलाधिकारी ने आज से हीं सघन मास्क चेकिंग अभियान चलाने का निर्देष दिया। उन्होंने कहा कि भीड़-भाड़ वाले स्थानों बाजारों आदि में लोग मास्क पहनकर निकलें। इसके लिए लोगों को प्रेरित करें। कोरोना संक्रमण से बचाव का सबसे अच्छा साधन मास्क का उपयोग है। थाना प्रभारी ,अंचल अधिकारी अगले 15 दिनों तक युद्धस्तर पर मास्क चेकिंग अभियान चलाएंगे। विगत अनुभवों के आधार पर हम सभी को कोरोना संक्रमण के प्रबंधन में प्रिभेंटीभ मोड मे रहना है।    आगामी पंचायत चुनाव के संदर्भ में 107 के कम प्रस्ताव पर असंतोष व्यक्त करते हुए सभी अनुमंडल पदाधिकारी एवं थाना प्रभारियों को इस संबंध में निर्देष दिये गये। पंचायत चुनाव में जिस  व्यक्ति के द्वारा बाधा उत्पन्न करने की संभावना हो सकती है उन्हे चिन्हित कर 107, 110 एवं सीसीए में कार्रवाई हेतु अधिक से अधिक संख्या में प्रस्ताव देने का निर्देष दिया गया। सभी थाना प्रभारियों को अपने स्तर से सभी मतदान केन्द्र भवनों को सत्यापन कर लेने के निर्देष दिये गये। षस्त्र सत्यापन कार्य को अच्छी तरह से करने के निर्देष दिये गये।
होली त्यौहार के संदर्भ में शराब के कारोबार एवं सेवन के संबंध में सभी थाना प्रभारियों को योजनाबद्ध रूप में छापामारी शुरू करने एवं कारवाई का निर्देष दिये गये। जिलाधिकारी ने कहा कि यह सरकार की प्राथमिकता में है। जब्त शराबांे के विनिष्टिकरण हेतु तिथि निर्धारण कराते हुए 25 मार्च से पूर्व अधिक से अधिक मात्रा में विनिष्टिकरण कराने का निर्देष दिया गया। जिलाधिकारी ने कहा कि जिस परिसर से बड़ी मात्रा में शराब की जब्ती होती है उस परिसर की अधिग्रहण हेतु प्रस्ताव पूर्ण विवरणी के साथ भेजें। थानों में जब्त वाहनों का नीलामी का भी प्रस्ताव दें।