वृद्धजन पेंशन योजना के लाभुकों का होगा कोविड-19 टीकाकरण

764

स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव एवं समाज कल्याण के अपर मुख्य सचिव ने सभी जिलों को जारी किया संयुक्त आदेश

सहरसा में कुल 141614 लाभुकों को मिलता है मुख्यमंत्री वृद्ध पेंशन योजना एवं इंदिरा गाँधी राष्ट्रीय वृद्धापेंशन योजना का लाभ

सहरसा:  जिले में मुख्यमंत्री वृद्धजन पेंशन योजना एवं इंदिरा गाँधी राष्ट्रीय वृद्धापेंशन योजना का लाभ ले रहे लाभुकों के टीकाकरण की तैयारी की जा रही है | इस बाबत समाज कल्याण विभाग के अपर मुख्य सचिव अतुल कुमार एवं स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव अमृत प्रत्यय के द्वारा संयुक्त रूप से शुक्रवार को आदेश जारी कर सभी जिले के जिला पदाधिकारी एवं सिविल सर्जन को निर्देश दिया गया है | उल्लेखनीय है कि जिले के सभी 10 प्रखण्डों को मिलाकर 50615 लाभुकों को मुख्यमंत्री वृद्धजन पेंशन योजना तथा 97269 को इंदिरा गाँधी राष्ट्रीय वृद्धापेंशन योजना का लाभ दिया जा रहा है |

जिले के सिविल सर्जन डॉ अवधेश कुमार ने बताया कि केंद्र राज्य सरकार के उक्त दोनों योजना का लाभ ले रहे योग्य वृद्धजनों का कोविड-19 टीकाकरण किये जाने से सम्बंधित आदेश प्राप्त हुआ है | उन्होंने कहा कि इस विशेष टीकाकरण अभियान के लिए प्रखंडवार व जिलावार रोस्टर तैयार किया जा रहा है | इसके लिए जिला कार्यक्रम प्रबंधक, ए.डी.एस.एस. का सहयोग भी लिया जा रहा है |

प्रत्येक प्रखंड में प्रतिदिन कम से कम 30 लाभार्थी प्रति पंचायत की दर से टीकाकरण का निर्धारित किया गया है लक्ष्य –

वृद्धजनों के इस विशेष टीकाकरण अभियान के लिए स्वास्थ्य विभाग सूक्ष्म योजना तैयार कर रहा है | इस बाबत प्रत्येक प्रखंड में प्रतिदिन कम से कम 30 लाभार्थी प्रति पंचायत की दर से टीकाकरण का लक्ष्य निर्धारित किया गया है | सभी वृद्धजनों के कोविड-19 टीकाकरण की व्यवस्था नजदीकी टीकाकरण केंद्र पर की जाएगी | प्रखंड स्तर पर लाभार्थियों को प्रोत्साहित करने की समुचित जवाबदेही प्रखंड विकास पदाधिकारी को दी गयी है | प्रखंड के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी एवं प्रखंड स्वास्थ्य प्रबंधक तथा पंचायती राज के प्रतिनिधि समुचित समन्वय एवं सहयोग प्रदान करेंगे | इस कार्य में प्रखंड सामुदायिक उत्प्रेरक एवं आशा कार्यकर्ताओं का व्यापक रूप से उपयोग किया जायेगा |

मास्क पहनना जारी रखें एवम् कोविड प्रोटोकॉल का करते रहें पालन: सिविल सर्जन

जिले के सिविल सर्जन डॉ अवधेश कुमार कहते हैं कि जिले में 45-59 आयुवर्ग के सह- रूग्णता वाले लाभुक एवम् 60 वर्ष के ऊपर के बुजुर्गों का कोविड टीकाकरण जारी है। उल्लेखनीय है कि टीकाकरण अभियान के प्रारंभ होने तथा चरणबद्ध तरीके से स्वास्थ्यकर्मियों और फ्रंटलाइन वर्कर्स तथा पदाधिकारियों को द्वितीय डोज का टीकाकरण तेजी से किया का रहा है। सिविल सर्जन डॉ अवधेश कुमार कहते हैं कि यह जरूरी है कि अभी हम मास्क पहनना जारी रखें तथा कोरोना को संपूर्ण रूप से परास्त करने के लिए कोविड प्रोटोकॉल का पालन करें, भले ही आपका टीकाकरण क्यों न हो गया हो! उन्होंने कहा कि जैसा कि हम जानते हैं कि कोविड की वैक्सीन सबसे पहले स्वास्थ्यकर्मियों, अग्रिम पंक्ति के कर्मियों तथा 45-59 वर्ष से पात्र लाभुक तथा 60 से अधिक आयु के व्यक्तियों को दी जा रही है। अंत में, बाकी लोगों का टीकाकरण किया जायेगा।