परिवार कल्याण में उत्कृष्ट कार्य करने वालों को किया गया पुरस्कृत

826

परिवार कल्याण में उत्कृष्ट कार्य के सबसे अधिक पुरस्कार जिला स्वास्थ्य समिति सहरसा को मिला

चिकित्सक, स्वास्थ्यकर्मी सहित आशा भी किये गये पुरस्कृत

सहरसा : परिवार कल्याण कार्यक्रम एक बहुत ही महत्वपूर्ण कार्यक्रम है जिसके सफल संचालन से जन्शंख्या नियंत्रण किया जा सकता है। महिलाओं के साथ साथ पुरुष की भागेदारी भी बहुत जरुरी है ।प्रभारी क्षेत्रीय अपर निदेशक डॉ.अवधेश कुमार ने कहा कि काम करने वालों को सम्मानित करने से एक सकारात्मक प्रतिस्पर्धा की भावना का विकास होता है। ऐसी प्रतिस्पर्धा से स्वास्थ्य के क्षेत्र में समुदाय को काफी फायदा मिलता है। उन्होंने स्वास्थ्यकर्मियों की सराहना करते कहा बेहतर काम और मरीजों के साथ अच्छा व्यवहार ही इस मिशन को सफल बना रहा है। आशा कार्यकर्ता ही स्वास्थ्य सेवाओं का केंद्र बिंदु हैं। परिवार नियोजन ही नहीं बल्कि जो भी स्वास्थ्य कार्यक्रम चलाये जा रहे हैं, उनकी सफलता में आशा कार्यकर्ताओं की भूमिका बेहद अहम है। इसलिए उन्हें सतत प्रोत्साहन दिया जाना चाहिए।

इन साधनों में बेहतर प्रदर्शन करने पर मिला सम्मान:

प्रभारी क्षेत्रीय अपर निदेशक डॉ.अवधेश कुमार ने बताया परिवार नियोजन कार्यक्रम की सफलता में साधनों के उपयोग को बढ़ाने की जरूरत होती है। इसे ध्यान में रखते हुए ही पुरस्कार निर्धारित किये गए हैं। पुरुष नसबंदी, महिला नसबंदी, प्रसव् उपरांत महिला नसबंदी एवं कॉपर टी के उपयोग बढ़ाने में बेहतर प्रदर्शन करने वालों को सम्मानित किया गया है।इसके अलावा परिवार नियोजन के साधन अंतरा व पीपीआईयूसीडी के इस्तेमाल करने के लिए लोगों को प्रेरित करने वाले आशाओं को भी सम्मानित किया गया है।
क्षेत्रीय कार्यक्रम प्रबंधक इकाई द्वारा आज रेड क्राॅस भवन सहरसा के सभागार में प्रभारी क्षेत्रीय अपर निदेशक डा0 अवधेश कुमार की अध्यक्षता एवं अविनाश कुमार क्षेत्रीय कायर्क्रम प्रबंध उपस्थिति में आयोजित परिवार कल्याण समीक्षा बैठक सह पुरस्कार वितरण समारोह के दौरान कोशी प्रमण्डल के तीनों जिलों में जिला स्वास्थ्य समिति सहरसा को उत्कृष्ट कार्य करने के लिए सबसे अधिक पुरस्कार मिले।

कोशी प्रमण्डल अंतर्गत सहरसा जिले के सिमरी बख्तियारपुर प्रखण्ड के चिकित्सक सर्जन डाॅ. एन. के सिन्हा को सबसे अधिक महिला बंध्याकरण, पी.पी.एस. तथा एल.ए. के लिए सलखुआ सी.एच.सी. के चिकित्सक डा0 अनिल कुमार सिंह को पुरस्कृत किया गया। वहीं स्त्री रोग विशेषज्ञ, डाॅ. नेहा कुमारी, सदर अस्पताल सहरसा को भी परिवार कल्याण के लिए पुरस्कृत किया गया।

पतरघट पी.एच.सी. की ए.एन.एम. अचर्ना कुमारी तथा आशा सहिस्ता परवीन को सवार्धिक पी.ए.आई.यू.सी.डी. उपयोग के लिए पुरस्कृत किया गया।

सिमरी बख्तियारपुर प्रखण्ड से आशा सुशीला देवी द्वारा प्रमण्डल में सबसे अधिक 87 महिलाओं को परिवार नियोजन हेतु प्रोत्साहित करने, अंतरा के लिए आशा समीमा खातून को पुरस्कृत किया गया।

राहुल किशोर जिला सामुदायिक उत्प्रेरक को प्रमण्डल अंतर्गत तीनों जिले में सामुदायिक उत्प्रेरक के उत्कृष्ट कार्य तथा विनय रंजन जिला कायर्क्रम प्रबंधक, जिला स्वास्थ्य समिति, सहरसा को परिवार कल्याण कायर्क्रम अन्तगर्त उत्कृष्ट कार्य हेतु पुरस्कृत किया गया। वहीं क्षेत्रीय कायर्क्रम प्रबंधक अविनाश कुमार, क्षेत्रीय अनुश्रवण एवं मूल्यांकन पदाधिकारी अविनाश कुमार झा एवं क्षेत्रीय लेखा प्रबंधक विवेक चतुर्वेदी भी पुरस्कृत किये गये।

स्वास्थ्य क्षेत्र में कोशी प्रमण्डल सहयोगी संस्था सेन्टर फॅार एडवेकेसी एण्ड रिसर्च को परिवार कल्याण क्षेत्र में जागरूकता फैलाने के लिए सर्वाधिक सहयोग हेतु पुरस्कृत किया गया। जिसे युगेश्वर कुमार राजा डिविजनल काॅडिनेटर, सीफार ने ग्रहण किया।
इस मौके पर तीनो जिले के सिविल सर्जन, डीपीएम, डीसीएम, एएनएम , आशा एवं अन्य स्वास्थ्य कर्मी उपस्थित थे।