चिरैया मे स्वास्थ्य शिविर का आयोजन,डीएम ने किया शिविर का उद्घाटन

768

जिला प्रशासन एवम् स्वास्थ्य विभाग के समन्वय में आयोजन

575 मरीजों का स्वास्थ्य परीक्षण किया गया

शिविर में ओपीडी, दवा वितरण एवम् विकलांगता जांच काउंटर सहित लगाए गए थे अन्य काउंटर
सहरसा : कोसी तटबंध के अंतर्गत के क्षेत्र जो भौगोलिक दृष्टिकोण से दुर्गम एवं जहां आवागमन की समस्या है, इन क्षेत्रों के नागरिकों को स्वास्थ्य सुविधाओं एवं नागरिक सेवाओं की सहज उपलब्धता हेतु चिड़ैयां ओ.पी. के परिसर में आयोजित स्वास्थ्य षिविर सह मेगाकैम्प का आज जिलाधिकारी कौशल कुमार ने उद्घाटन किया। विदित हो कि कोसी तटबंध के अंदर विभिन्न पंचायतों में जहां आवागमन की समस्या है वहां पर जिलाधिकारी के निर्देश पर स्वास्थ्य षिविर सह मेगाकैम्प का आयोजन किया जा रहा है जिसके माध्यम से स्वास्थ्य सुविधाएं सेवाओं के साथ-साथ विभिन्न जन कल्याणकारी योजनाओं का लाभ भी उपलब्ध कराया जा रहा है। विगत 05 मार्च को कठडूमर पंचायत सिमरी बख्तियारपुर में स्वास्थ्य शिविर सह मेगाकैम्प का आयोजन के अवसर जिलाधिकारी द्वारा कोसी तटबंध के अंतर्गत विभिन्न पंचायतों में निरंतर रूप में स्वास्थ्य शिविर सह मेगाकैम्प के आयोजन के लिए निर्देश दिये गये थे। इसी क्रम में आज सलखुआ प्रखंड के चिड़ैया में आयोजन किया गया और इसे निरंतरता देते हुए आगामी 18 मार्च 2021 को डरहार पंचायत में स्वास्थ्य शिविर सह मेगाकैम्प आयोजित किये जाएंगे। इस अवसर पर जिलाधिकारी ने कहा कि कोसी तटबंध के अंदर के क्षेत्र में स्वास्थ्य एवं नागरिक सेवाएं सुगम रूप से उपलब्ध कराने के दृष्टिकोण से जिला प्रषासन के द्वारा चिडैया ओ.पी. के परिसर में आज स्वास्थ्य षिविर सह मेगाकैम्प का आयोजन किया गया है। आयोजित शिविर में यहां के लोगों ने काफी उत्साह से भाग लिया है। स्वास्थ्य परीक्षण हेतु शिविर के अंतर्गत 08 काउंटर लगाये गये है। इसके अलावा जन कल्याणकारी सरकारी योजनाओं का लाभ देने हेतु भी काउन्टर लगाये गये हैं। स्वास्थ्य परीक्षण हेतु 575 व्यक्तियों ने निबंधन कराया है। 207 व्यक्तियों की जेनरल फिजीषियन द्वारा स्वास्थ्य जांच की गई है। 83 महिलाओं का प्रसव पूर्व परीक्षण किया गया है। शिशु रोग विषेषज्ञों द्वारा 137 बच्चों की स्वास्थ्य जांच की गई हैं। 24 बच्चों का टीकाकरण एवं 6 गर्भवती महिलाओं को टीटनस की सुई दी गई है। 55 व्यक्तियों का नेत्र जांच किया गया 25 व्यक्तियों के चश्मा बनाने का आवेदन प्राप्त हुआ है जिसे 15 दिन के चश्मा बनवाकर उपलब्ध कराया जाएगा। 75 लोगों का ऑर्थो ओ.पी.डी. में जांच की गई। 14 लोगों को विकलांगता प्रमाण पत्र निर्गत किये गये है और उन्हें पेंशन उपलब्ध कराने हेतु उनसे आवेदन प्राप्त किये गये हैं। कुल-412 व्यक्तियों के बीच दवा का वितरण किया गया है। इसी प्रकार जन कल्याणकारी योजनाओं के संदर्भ में 83 नये राशन कार्ड हेतु आवेदन प्राप्त हुए हैं। 60 व्यक्तियों द्वारा जॉब कार्ड हेतु आवेदन दिया गया है। आवास योजना के अंतर्गत 7 आवेदन प्राप्त हुए हैं। वृद्धावस्था पेंशन हेतु 14 आवेदन लिये गये है एवं दाखिल खारीज से संबंधी 7 एवं रसीद अपडेट करने से संबंधी 27 आवेदन प्राप्त हुए है। आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत 65 लाभार्थियों को गोल्डेन कार्ड बनाने की दिषा में कारवाई की गई है। इस प्रकार स्वास्थ्य सेवाओं एवं जन कल्याणकारी योजनाओं के तहत आज आयोजित स्वास्थ्य शिविर सह मेगाकैम्प में अच्छी उपलब्धि रही है। शिविर में प्राप्त सभी आवेदनों को प्रक्रिया कर अगले 15 दिनों के अंदर आवेदकों को संबंधित योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा। इसके अतिरिक्त चिड़ैया ओ.पी. में मनरेगा योजना के माध्यम से तीन लाख एकतीस हजार की लागत से चहार दीवारी निर्माण कार्य का आरंभ किया गया है। जिलाधिकारी ने कहा कि काफी संख्या में लोगों ने अपनी समस्याओं के संबंध में परिवाद पत्र उन्हें दिया है जिसके आलोक में यथाषीघ्र कारवाई हेतु संबंधित पदाधिकारियों को निर्देश दिये गये हैं साथ हीं इस क्षेत्र की समस्याओं से वे अवगत हुए हैं। कठडूमर में आयोजित स्वास्थ्य षिविर सह मेगाकैम्प में तटबंध क्षेत्र अन्तर्गत आवागमन की सुगमता हेतु बड़े पुल की निर्माण की मांग वहां के निवासियों द्वारा की गई थी। साथ हीं इस क्षेत्र में भी लोगों द्वारा पुल की आवश्यकता के संबंध में उन्हें अवगत कराया है जिसे संबंधित विभाग को इस संबंध में पत्र प्रेषित किये जा रहे हैं। चिड़ैया में टूटे हुए पुल के निर्माण हेतु संबंधित विभाग से समन्वय कर इस बनवाने की दिशा में कारवाई की जाएगी। पुलिस अधीक्षक लिपि सिहं ने इस अवसर पर कहा कि भौगोलिक दृष्टिकोण से तटबंध के अंतर्गत दुर्गम क्षेत्र है। अपराध नियंत्रण एवं विधि व्यवस्था के संदर्भ में यहां आकर वे यहां की परिस्थिति से अवगत हुए हैं जिससे इस क्षेत्र के लिए पुलिसिंग के संदर्भ में योजना तय करने में सुविधाजनक होगी। चिडै़यां ओ.पी. के भवन निर्माण हेतु योजना स्वीकृत है इसमें शीघ्र हीं कार्य आरंभ किये जा रहे हैं। पुलिस के दृष्टिकोण से यह क्षेत्र संवेदनशील है। जिलाधिकारी ने इस अवसर पर मनरेगा के अंतर्गत जॉब कार्ड का वितरण किया ।वहीं सामाजिक सुरक्षा योजना के अंतर्गत लाभुकों को ट्राईसाइकिल उपलब्ध कराया। चिड़ैया ओ.पी. के परिसर में जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक ने पौधारोपन किया। जिलाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक ने संयुक्त रूप से चिड़ैया ओ.पी. का निरीक्षण किया। इसके अतिरिक्त अलानी पंचायत में पंचायत सरकार भवन निर्माण हेत स्थल निरीक्षण के उपरांत स्थल का चयन किया गया। उन्होंने सिविल सर्जन को निर्देश दिया कि यदि इस क्षेत्र में अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र भवन निर्माण की योजना हेतु प्रस्ताव दें ताकि इस क्षेत्र के नागरिकों को स्वास्थ्य सुविधा नियमित रूप से उपलब्ध करायी जा सके। जिलाधिकारी से कई लोग अपनी-अपनी समस्याओं को लेकर मिले और जिलाधिकारी ने संबंधित पदाधिकारियों को निराकरण की दिशा में कारवाई का निर्देश दिया। स्थानीय सरपंच से विगत वर्ष रक्षाबंधन के दूसरे दिन हुई नाव दुघटना में मृत व्यक्तियों के परिवार को अनुग्रह अनुदान राषि नहीं मिलने की जानकारी पर जिलाधिकारी ने मोबाइल से प्रभारी पदाधिकारी आपदा प्रबंधन एवं अंचलाधिकारी सलखुआ को तुरंत कारवाई करते हुए अनुग्रह अनुदान की राशी उपलब्ध कराने का निर्देश दिया।इस मौके पर जिले की पुलिस अधीक्षक लिपी सिंह , डीडीसी राजेश कुमार सिंह, सिविल सर्जन डॉ.अवधेश कुमार, प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ अनिल कुमार सिंह, अनुमंडल पदाधिकारी वीरेन्द्र कुमार , उप निदेशक-सह-जिला सूचना एवं जनसंपर्क पदाधिकारी दिलीप कुमार देव ,डीपीएम विनय रंजन,सहयोगी संस्था केयर इंडिया के डीटीएल रोहित रैना,हेल्थ मैनेजर संजीव कुमार एवं अन्य स्वास्थ्य कर्मी सहित पंचायत के प्रतिनिधि भी मौजूद रहे |