बनगांव होली महोत्सव आयोजन को लेकर ज़िलाधिकारी की अध्यक्षता में बैठक आयोजित

953

राष्ट्रीय स्तर के कलाकारों को महोत्सव में बुलाने की मांग की

सहरसा:  बनगांव की होली को राजकीय दर्जा मिलने के बाद रविवार को जिलाधिकारी कौशल कुमार ने बनगांव बाबाजी कुटी में गोस्वामी लक्ष्मीनाथ होली समिति के सदस्यों के साथ बैठक की। जिसमें राष्ट्रीय स्तर के कलाकार को बुलाने पर चर्चा की गई। समिति के अध्यक्ष महावीर झा की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में बनगांव की होली को राजकीय दर्जा एवं 20 लाख रुपये की स्वीकृति दिए जाने पर मंत्री आलोक रंजन एवं सरकार के प्रति आभार जताया गया।

समिति के सदस्यों ने बताया कि होली के अवसर पर यहां त्रिदिवसीय शास्त्रीय संगीत का आयोजन होता रहा है। जिसमें राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय कलाकारों की प्रस्तुति हो चुकी है। वर्ष 1954 में स्वर्गीय तारिणी प्रसाद झा ने इसे मूर्त रूप दिया था। तब से शास्त्रीय समारोह होते आ रहा है। प्रथम सत्र का आयोजन होली के पूर्व संध्या पर दुर्गा स्थान तथा द्वितीय सत्र बिषहरी स्थान होली मंच पर एवं तृतीय सत्र गांव के मध्य ललित झा बंगला पर मनाई जाती है। बताया गया कि होली समिति के अध्यक्ष बिहार सरकार के पूर्व मंत्री स्वर्गीय रमेश झा के अलावा महेश्वर खां, देवनारायण खां आदि रह चुके हैं। लोगों ने राष्ट्रीय स्तर के कलाकारों को महोत्सव में बुलाने की मांग की।

स्थानीय मुखिया विनोद झा ने बताया कि गांव के सभी पीसीसी ढलाई सड़क को नल जल योजना के संवेदक द्वारा तोड़ने से परेशानी हो रही है। उन्होंने महोत्सव से पहले दुरूस्त करवाने की मांग की। डीएम कौशल कुमार ने होली समिति एवं ग्रामीणों को संबोधित करते हुए कहा कि बनगांव में होली महोत्सव के रूप में मनाई जाएगी। अच्छे कलाकारों से भी संपर्क किया जाएगा। लोगों से उन्होंने कोविड-19के निर्देश के पालन करने का अनुरोध किया। इससे पूर्व समिति के सदस्यों द्वारा जिला पदाधिकारी, डीडीसी राजेश कुमार, एसडीओ शंभूनाथ झा को सम्मानित किया। फूल झा द्वारा धन्यवाद ज्ञापन किया गया। मौके पर बीडीओ रचना भारतीय, सीओ लक्ष्मण प्रसाद, कुमोद चौधरी, मोहन जी खां, शक्तिनाथ मिश्र, शंभूनाथ चौधरी, जितेंद्र नारायण मिश्र, अंजनी झा, वीकन मिश्र, नवल झा, पूर्व मुखिया धनंजय झा, शंकरनाथ झा, सुमन खां समाज, अरविद खां, निर्मल मिश्र सहित दर्जनों ग्रामीण मौजूद रहे।( दैनिक जागरण)