डीएम की अध्यक्षता में रक्त काली चौसठ योगिनी मंदिर न्यास समिति की बैठक आयोजित,कई निर्णय लिए गए

791
राशि  व्यय के संदर्भ में कई महत्वपूर्ण निर्णय लिये गये
सहरसा : रक्तकाली चौसठ योगिनी मंदिर के संचित निधि का सदुपयोग जनहित से जुड़े जन कल्याण एवं धार्मिक कार्यों में किया जाना चाहिए। आज अध्यक्ष सह जिलाधिकारी कौशल कुमार ने रक्तकाली चैंसठ योगिनी मंदिर न्यास समिति की बैठक की अध्यक्षता करते हुए उक्त बातें कहीं। बैठक में जनहित से जुड़े कार्यों में संचित राशि का व्यय के संदर्भ में कई महत्वपूर्ण निर्णय लिये गये।
पिछले बैठक में सहरसा नगर क्षेत्र अन्तर्गत विभिन्न छठ तालाबों के घाटों के सुदृढ़ीकरण के प्रस्ताव के आलोक में आज रक्तकाली चौसठ योगिनी मंदिर के सामने जलाशय के एक भाग में 100 फीट की लंबाई में घाट के सुदृढ़ीकरण हेतु निर्णय लिये गये। वहीं पुलिस लाईन स्थित छठ घाट में काफी संख्या में श्रद्धालुओं के आगमन के संदर्भ में उक्त छठ घाट की खराब स्थिति को देखते हुए उत्तर भाग में 100 फीट की लंबाई में छठ घाट के सुदृढ़ीकरण पर सर्वसम्मति बनी। पूरब बाजार स्थित कन्या मध्य विद्यालय में पढ़ने वाली छात्राओं के लिए शौचालय सहित अन्य सुविधाएं उपलब्ध कराने के प्रस्ताव का अनुमोदन किया गया।
इस क्रम में जिलाधिकारी ने तटबंध के अंदर कठडुमर  ए.पी.एच.सी. की खराब स्थिति के कारण आस-पास के कई पंचायतों की महिलाओं को संस्थागत प्रसव का लाभ नहीं प्राप्त होने का उल्लेख करते हुए कहा कि तटबंध के अंदर दुर्गम एवं आवागमन की कठिनाई के कारण होम डिलवरी से गर्भवती महिलाओं एवं नवजात शिशुओं को चिकित्सा सुविधा समय पर उपलब्ध नहीं होने पर मृत्युदर की संभावना रहती है। 10 से 12 लाख के प्रराक्कलन से कठडुमर अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र को दुरूस्त कर संस्थागत प्रसव की सुविधा उपलब्ध होने से आस-पास के लगभग दो लाख आबादी लाभान्वित होगी, इस प्रस्ताव का सर्वसम्मति से अनुमोदन किया गया।
जिलाधिकारी ने उपरोक्त सभी कार्यों का काॅस्ट इफेकटीव प्राक्कलन तैयार करने का निर्देश एल.ई.ओ. 01 को दिया और राषि की उपयोगिता के मद्देनजर न्यूनतम लागत का प्राक्कलन तैयार करने का निर्देष दिया गया। उक्त सभी कार्यांे के अनुश्रवण के लिए विभागीय एवं समिति के सदस्यों का एक अनुश्रवण समिति के गठन का निर्देश दिया जो किये जाने वाले कार्यों का अनुश्रवण करेगी। मंदिर सौन्दर्यीकरण के अंतर्गत गर्व गृह में टाइल्स,मार्बल आदि लगाने, गेट के निर्माण पर सहमति व्यक्त की गई। विवाह भवन, परिसर, चाहार दीवारी एवं गार्डेनिंग एवं अन्य सौन्दर्यीकरण कार्य के संदर्भ में अगली बैठक में प्रस्ताव प्रस्तुत करने की बात कही गयी लेकिन उसके पूर्व उप विकास आयुक्त को समिति के सदस्यों के साथ निरीक्षण कर मंदिर के सौन्दर्यीकरण से संबंधित प्रस्ताव तैयार करने को कहा गया।अध्यक्ष -सह- जिलाधिकारी ने कहा कि दान पेटी एवं अन्य श्रोत से मंदिर को प्राप्त आय को संचालित बैंक खाते में संधारित किये जाएं। 31 मार्च 2021 को दान पेटी खोलने का निर्देष दिया गया। आगामी 01 अप्रैल 2021 से मंदिर के दैनिक कार्यों यथा-पूजा एवं अन्य कार्यों के लिए एकमुस्त पैंतीस हजार रूपये की निकासी कर व्यय करने का निर्देष दिये गये साथ हीं मंदिर के पुजारी सहित सभी कर्मियों को उनको देय मानदेय की राषि बैंक खाता के माध्यम से उपलब्ध कराने का निर्देष दिया गया। जिन कर्मियों का बैंक खाता नहीं खुला है उन कर्मियों का खाता खुलवाने का निर्देष सदर अनुमंडल पदाधिकारी को दिया गया। आय व्यय के विवरण को विधिवत संधारित करने के निर्देष दिये गये। इस संबंध में समाहरणालय से सेवानिवृत्त मुक्तेष्वर सिंह मुकेश को कोषाध्यक्ष को सहयोग करने के लिए प्राधिकृत किया गया। मंदिर परिसर स्थित दुकानों के बंदोबस्ती के संदर्भ में विचार विमर्षोपरांत दुकान के मासिक किराये में संषोधित दर 25 रूपये प्रति वर्गफीट के अनुसार मासिक किराया प्राप्त करने का निर्णय लिया गया।
बैठक में कोविड-19 लाॅक डाउन की अवधि में मंदिर एवं दुकानों के बंद रहने की स्थिति के संदर्भ में दुकानदारों के किराया माफी की मांग पर माह अप्रैल 2020 से अगस्त 2020 तक 05 माह के दुकान किराये में 50 प्रतिषत किराया माफ करने का निर्णय लिया गया। मंदिर परिसर के अंदर साफ-सफाई के लिए सफाई कर्मी की सेवा लेने का निर्णय लिया गया। जिसका भुगतान मंदिर के संचित निधि से की जाएगी। मत्स्यगंधा झील के जीर्णोद्धार के उपरांत वोटिंग के संबंध में विचार विमर्ष किया गया। बताया गया कि 04 सीटर 8 वोट एवं 02 सीटर 6 वोट उपलब्ध है जिसकी मरम्मती की आवष्यकता है। अध्यक्ष -सह- जिलाधिकारी ने सभी वोटों के मरम्मती हेतु संबंधित एजेंसी को आदेष देने का निर्देष दिया साथ हीं कहा कि यदि वोट रिपेयर के योग्य नहीं है तो नये वोट के क्रय हेतु प्रस्ताव दें। आगामी 01 अप्रेल 2021 से मत्स्यगंधा झील में वोटिंग सुविधा उपलब्ध कराने हेतु आवष्यक तैयारियां कर लेने का निर्देष दिया गया साथ हीं वोटिंग के लिए 25 अद्द बच्चों के एवं 25 अद्द व्यस्क व्यक्तियों के लिए लाइफ जैकेट क्रय करने का निर्णय लिया गया। वोटिंग से प्राप्त आय मंदिर के लेखा के अंतर्गत संधारित किया जाएगा।  बैठक में उप विकास आयुक्त राजेश कुमार सिंह, सदर अनुमंडल पदाधिकारी शंभुनाथ झा, प्रभारी पदाधिकारी समान्य शाखा, कार्यपालक पदाधिकारी नगर परिषद, कार्यपालक अभियंता एल.ई.ओ.सहायक अभियंता भवन प्रमंडल, मंदिर न्यास समिति के हीरा प्रभाकर सहित सभी सदस्यगण एवं अन्य उपस्थित थे।