झोलाछाप चिकित्सकों के विरूद्ध कारवाई हेतु मुहिम चलाने का कमिश्नर ने दिया निर्देश

Kunal Kishor
kunal@koshixpress.com
224
पदाधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक
सहरसा :  आम जन की समस्याओं को संजीदगी, संवेदनशीलता एवं आत्मीयता से देखें और उसके निराकरण का प्रयास करें। वरीय पदाधिकारी जन समस्याओं के निराकरण हेतु स्वंय पहल करेगे तो आम जन का भरोसा बढता है।  आज प्रमंडलीय आयुक्त राहुल रंजन महिवाल अपने कार्यालय वेश्म में जनहित की समस्याओं एवं लंबित योजनाओं के संदर्भ में प्राप्त परिवाद के आलोक में संबंधित पदाधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक में उक्त बातें कही।
 स्वास्थ्य विभाग से जुडे एक परिवाद के संदर्भ में आयुक्त ने प्रमंडल के सभी जिलों में बिना प्रषिक्षण प्राप्त एवं डिग्री/डिप्लोमाधारी ऐसे नीम-हकीम झोलाछाप चिकित्सकों के विरूद्ध कारवाई हेतु मुहिम चलाने का निर्देश जिलाधिकारियों एवं पुलिस अधीक्षकों को दिया है। उन्होने कहा कि अप्रषिक्षित एवं बिना डिग्री/डिप्लोमा के झोलाछाप चिकित्सक आमजन के जान के साथ खिलवाड कर रहे है, जो गंभीर विषय है। गलत इलाज से संबंधित ऐसे कई मामले प्रकाष में आये है। ऐसे नीम-हकीम/झोलाछाप चिकित्सकों के विरूद्ध कारवाई हेतु जिला स्तर पर बनी अनुश्रवण समिति को सक्रिय करते हुए उसके माध्यम से कारवाई का निर्देश दिया गया।
बैठक में जन समस्याओं से संबधित परिवादों में के संबध मे संबधित पदाधिकारियो से समीक्षा की गई। शीत भंडार बिस्कोमान के विगत दस वर्षो से बंद के कारण जिले के किसानों का इसका लाभ नहीं प्राप्त होने के संबंध में बंद रहने के कारणों की जानकारी ली गई। रेंज पदाधिकारी, बिस्कोमान ने बताया कि भवन के विद्युत् विपत्र का भुगतान नहीं होने के कारण उक्त शीत भंडार गृह बंद है। इस संबंध में पूर्व में विभाग/मुख्यालय से हुए पत्राचार की प्रति उपलब्ध कराने को कहा गया ताकि विद्युत् विपत्र की बकाया राषि के भुगतान हेतु राषि उपलब्ध कराने के संबंध में आयुक्त स्तर से पत्राचार किया जा सके। प्रियव्रत उच्च विद्यालय, पंचगछिया खेल मैदान और कलावती उच्च विद्यालय खेल मैदान में बन रहे स्टेडियम को संवेदक द्वारा अधूरा छोडने के कारण युवा एवं खेलप्रेमियों के इससे वंचित होने के परिवाद पर अधीक्षण अभियंता भवन निर्माण विभाग द्वारा बताया गया कि कार्यपालक अभियंता भवन प्रमंडल, सहरसा द्वारा संबंधित संवेदक को इस संबंध  में कई बार नोटिष निर्गत की गयी है। आयुक्त ने समय सीमा का निर्धारित करते हुए उक्त विद्यालय परिसरों मे बन रहे स्टेडियम निर्माण के कार्य को पूर्ण कराने का निर्देष अधीक्षण अभियंता को दिया गया ।
सत्तरकटैया के बारा पंचायत सरकार भवन का निर्माण संवेदक द्वारा अधूरा छोड़ने के परिवाद के आलोक में अधीक्षण अभियंता को संवेदक के साथ बैठक कर निर्माण पूर्ण कराने एवं फलाफल से अवगत कराने का निर्देष दिया गया। सदर अस्पताल सहरसा मे डिजीटल एक्सरे मषीन, अल्ट्रासाउन्ड, सीटी स्कैन की सुविधा उपलब्ध कराने के संबंध मे क्षेत्रीय स्वा0 उप निदेषक ने कहा कि अल्ट्रासाउन्ड मषीन कार्यरत है, डिजीटल एक्सरे एक-दो दिन मे कार्यरत हो जायेगा। सीटी स्कैन की सुविधा हेतु स्थान चिन्हित कर लिया गया है। विद्युत् कनेक्शन आदि की कारवाई करते हुए शीघ्र यह सुविधा आरंभ करने की कारवाई की जा रही है।
आयुक्त ने निर्देष दिया कि स्वास्थ्य सेवाओं से संबंधित कोई योजना बाधित नही हो, राषि की आवष्यकता होने पर उनके स्तर से विभाग को पत्र भेजें। आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत प्रतिवेदन की मांग की गई कि कितने योग्य लाभार्थियों को गोल्डेन कार्ड उपलब्ध कराया गया है और इस योजना से कितने लाभार्थियों को लाभ मिला है साथ ही अद्यतन क्या प्रगति है। धेमरा नदी पर पुल की आवष्कता के संबंध में सहरसा के जिलाधिकारी को इस संबंध में संबंधित पदाधिकारियों से समीक्षा कर अग्रेतर कारवाई का निर्देष दिया गया।
बैठक में आयुक्त के सचिव एवं संबंधित विभाग  के प्रमंडल स्तरीय पदाधिकारी उपस्थित थे।