प्रखंड पदाधिकारी व्यक्तियों की जांच अपनी निगरानी में कराएं: डीएम

Kunal Kishor
kunal@koshixpress.com
454

जिला पदाधिकारी के आदेश पर बनाया गया मेडिकल टीम

प्रत्येक टीम में एनएम और मेडिकल ऑफिसर को किया गया है नियुक्त

सहरसा@सुभाष झा: कोरोना वायरस महामारी के रूप में फैल रहा है। इससे बचाव का सर्वोच्च तरीका सोशल डिस्टेंस है। सोशल डिस्टेंस को।लागू करने के लिए ही देशव्यापी लॉकडाउन है। जिसका पालन जिले में सख्ती के साथ किया जा रहा है। इसी क्रम में इसके साथ ही सहरसा जिला पदाधिकारी कौशल कुमार ने कहा है जिले में बाहर से आए प्रवासी मजदूरों एवं अन्य व्यक्ति जो होम कोरेंटिन में हैं या सरकारी कोरेंटिन में रह रहे हैं। उनकी स्वास्थ्य की नियमित निगरानी एवं एवं जांच आवश्यक है।

मेडिकल टीम का किया गया गठन
शनिवार के बाद से कोरेन्टीन व्यक्तियों की जांच का कार्य जारी है। इस कार्य के साथ ही पंचायतों में आने वाली मेडिकल टीम प्रवासी एवं बाहर से आए व्यक्तियों के साथ पंचायत के ऐसे व्यक्तियों की भी जांच करें जिसमें इलफ्लुएंज़ा जैसे लक्षण तथा सिवियर एक्यूट रिसपेरेटरी इंफेक्शन का लक्षण हो। ऐसे व्यक्तियों की पहचान हेतु पंचायत प्रतिनिधियों तथा पंचायत में पदस्थापित सरकारी कर्मियों का सहयोग लिया जाए ।
इस कार्य हेतु प्रत्येक पीएचसी मैं टीम गठित की गई है,जो कि अगले 5 दिन हेतु पंचायत वार एवं तिथि वार स्वास्थ्य जांच हेतु मेडिकल टीम का रोस्टर बनाया गया है, यह जांच दिनांक रविवार से लेकर गुरुवार तक सभी पीएससी में रोस्टर के मुताबिक चलेगा।

प्रखंड विकास पदाधिकारी को दिया गया निर्देश

जिला पदाधिकारी कौशल कुमार ने सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी को पंचायतों में बाहर से आए सभी व्यक्तियों एवं इन्फ्लुएंजा जैसे लक्षण तथा सिवियर एक्यूट रिसपेरेटरी इंफेक्शन का लक्षण वाले व्यक्तियों के स्वास्थ्य की जांच सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी अपनी निगरानी में कराना सुनिश्चित करेंगे। मेडिकल टीम जांच उपरांत स्पष्ट अनुशंसा करेंगे कि व्यक्ति को होम कोरेन्टीन हैं या आइसोलेशन में। कोरेन्टीन के मामले में उनके दैनिक निगरानी हेतु संबंधित बीसीएम द्वारा एक आशा कार्यकर्ता को टैग जाएगा तथा दैनिक स्वास्थ्य प्रतिवेदन प्राप्त किया जाएगा।
बीएचएम एवं बीसीएम को प्रतिवेदन रिपोर्ट समर्पित करने की जिम्मेदारी दी गई
निकल टीम जांच के क्रम में वैसे व्यक्तियों का भी जांच करेंगे जो बाहर से आए हैं, तथा सूची में नाम अंकित नहीं है। साथ ही ऐसे व्यक्तियों का नाम सूची में नीचे अंकित करेंगे। मेडिकल टीम द्वारा रोस्टर के अनुरूप किए गए जांच एवं इन्फलूऐनजा जैसे लक्षण तथा सिवियर एक्यूट रिसपेरेटरी इंफेक्शन का लक्षण वाले व्यक्तियों का पूर्ण विवरण नाम, पता तथा दूरभाष संख्या , लक्षण से संबंधित व्यक्तियों का प्रतिवेदन प्रत्येक दिन संध्या 5 बजे संबंधित बीएचएम एवं बीसीएम के द्वारा विकास भवन , सहरसा में उप विकास आयुक्त, सहरसा को समर्पित किया जाएगा।