निवेशक जागरूक होंगें तभी वित्तीय फर्जीवाड़ों पर लगेगी लगाम : के आशुतोष निखिल

कोशी एक्सप्रेस: मधुबनी से बी.चन्द्र की रिपोर्ट

◆बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज के इन्वेस्टर प्रोटेक्शन फंड द्वारा इन्वेस्टमेंट अवेयरनेस प्रोग्राम का आयोजन,
◆पीएमके केंद्र के प्रशिक्षुओं व जिले के यंग एंटरप्रेन्योर्स को दी गयी निवेश संबंधी जानकारी
मधुबनी: छोटे छोटे पूंजी निवेशक अनेक संगठित व्यवसायिक संस्थानों में अपनी पूंजी या धन लगाकर उसकी वित्त आवश्यकताओं की पूर्ति करते हैं। यह आर्थिक निवेश देश और मानवता के विकास का मूल आधार है। लेकिन लोभ लालच मानवीय स्वाभाव का अभिन्न अंग है जिसके कारण निवेशक अज्ञानतावश अपना पैसा गलत प्रकार से या गलत लोगों के साथ लगा देते हैं और अपना सारा धन खो बैठते हैं। इसपर तभी रोक लगेगी जब निवेशक इसके प्रति जागरूक होंगे। उक्त बातें गुरुवार को मधुबनी स्थित पीएमकेके केंद्र लहेरियागंज के सभागार में बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज के इन्वेस्टर प्रोटेक्शन फंड द्वारा आयोजित इन्वेस्टमेंट अवेयरनेस प्रोग्राम को संबोधित करते हुए गेस्ट लेक्चरर कुमार आशुतोष रंजन निखिल ने कही। उन्होंने कहा कि आज आईटी क्रांति के कारण आमलोगों तक निवेश का मार्ग पहुंच गया है लेकिन इसमें सही व गलत में अंतर नहीं समझ पाने के कारण फर्जी संस्थान निवेशकों के गाढ़ी कमाई चंद मिनटों में उड़ा देते हैं। इसपर लगाम लगाने के लिए निवेशकों को निःसंकोच होकर सार्वजनिक प्लेटफॉर्म पर इस बाबत चर्चा परिचर्चा करने की आवश्यकता है। तभी पोंजी स्कीम और आजकल हो रहे अन्य वित्तीय फर्जीवाड़ों व धोखाधड़ी पर रोक लगायी जा सकती है।

                                    कार्यक्रम का आयोजन बीएसई इन्वेस्टर प्रोटेक्शन फंड के तत्वावधान में फाइनेंशियल लिट्रेसी एडवाइजरी बोर्ड द्वारा किया गया था जिसका उद्देश्य मधुबनी जिले के यंग एंटरप्रेन्योर व पीएमके केंद्र के विभिन्न विधाओं में अध्धयनरत प्रशिक्षुओं को निवेश, शेयर बाजार की कार्यप्रणाली, कर संरचना की जानकारी व निवेशकों को उनकी सुरक्षा के प्रति जागरूक करना था।

                       इस दौरान जिले के प्रगतिशील टैक्स एक्सपर्ट केे निखिल द्वारा फाइनेंशियल प्लानिंग व देश की विद्यमान कर संरचना पर भी विस्तृत प्रकाश डाला गया। अंतिम सेशन में केंद्र के प्रशिक्षुओं के निवेश व कर संबंधी दुविधाओं व प्रश्नों का उत्तर देकर उनकी व्याख्या की गई। मौके पर पीएमकेके सेंटर हेड रवि निशांत, आर्किटेक्ट ई कुमार प्रभात रंजन लक्की, असिस्टेंट आनंद कुमार, एमएसआर ट्रेनर अभिषेक कुमार, रविभूषण सिंह, एसएमओ ट्रेनर रंजीत कुमार मिश्रा, एफएलएचडब्ल्यू ट्रेनर गुंजन कुमारी, रश्मि कुमारी, एमआईएस कल्पना कुमारी सहित संस्थान के कर्मचारी, सैकड़ों प्रशिक्षु व जिले के दर्जनों युवा इंटरप्रेन्योर मौजूद थे।