अव्यवस्था ही भ्रष्टाचार को जन्म देता है,होमगार्ड ईमानदारी के साथ कर्तव्यनिष्ठ बनें : डीजी

1905

SLR से लेंस होंगे होमगार्ड
सहरसा भार्गव भारद्वाज:गृह रक्षा वाहिनी तथा अग्निशमन सेवा के महानिदेशक आर के मिश्र द्वारा शनिवार को गृह रक्षा वाहिनी कार्यलय का निरीक्षण कर सरकार द्वारा उठाये गए कदमो को विस्तारपूर्वक जानकारी दी ।इस अवसर पर होमगार्ड के जवानो द्वारा उन्हें गार्ड आफ आनर भी दिया गया । महानिदेशक श्री मिश्र ने होमगार्ड के जवानो को संबोधित करते हुए कहा कि आपमे असीम शक्ति है उसे सदैव उर्जावान बनाए रखे ।होमगार्ड ऐसा उर्जावान फोर्स है जिसकी चमक हर गाँव हर गली में है ।उन्होने कहा कि आधे मन से ड्यूटी ना करें मन से ड्यूटी करें। होमगार्ड 24 घंटा ड्यूटी करने के लिए तत्पर रहते हैं। अपनी ईमानदारी को बनाए रखें। इमानदारी आने से ही होमगार्ड का कायाकल्प हो जाएगा। उन्होंने कहा कि मैंने जब इस विभाग का प्रभार संभाला तो सभी जिलों में जाकर वस्तुस्थिति को देखा । दौरा करने के बाद सभी जगह मूलभूत समस्याओं को लेकर असंतोष दिखाई दिया। मैंने दौरा रद्द कर सबसे पहले इन समस्याओं के ऊपर काम करना शुरू किया ।जिसके फलस्वरूप जवानों के वेतन, बकाया भता का भुगतान के लिए कदम उठाया। 1 नवंबर से प्रत्येक 1 तारीख को वेतन देना प्रारंभ हुआ है ।उन्होने ने बताया कि 40 जिलों में 1 दिसंबर से होमगार्ड के जवानों को वेतन भुगतान सुनिश्चित करवाया लेकिन तकनीकी कारणों से कुछ जिलों में विलंब हुई है जिसे निकट भविष्य में दूर कर लिया जाएगा। उन्होंने कहा उन्होंने कहा कि राज्य में कुल 56000 होमगार्ड के जवान है जिसमें से दस हजार दिसंबर में रिटायर हो गए। 46 हजार होमगार्डों में से 4हजार लोग ड्यूटी से अनुपस्थित रहते हैं। सहरसा जिले में 1022 होमगार्ड के जवान हैं जिसमें से 21 जवान अनुपस्थित रहते हैं। उन्होंने कहा कि 1 महीने के अंदर सबों को यूएन नंबर दिलाएं ।काम होने के लिए नियम बनता है समय पर बिल नहीं भेजने के कारण समय पर भुगतान नहीं हो पाता है। इसीलिए नियमों को ठीक करने के लिए हर महीने 20 से 21 तारीख तक हाजिरी उपलब्ध कराएं। हर हाल में 26 तक उसे ट्रैजरी में भिजवा दें। उन्होंने कहा की पूरी राज्य में होमगार्ड के लिए चार प्रशिक्षण केंद्र स्थापित है ।उन्होंने कहा होली के बाद 5 दिनों के लिए सभी होमगार्डों को आधुनिक हथियारो को प्रशिक्षण दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि प्रशिक्षण के दौरान भी उन्हें ₹774 प्रति दैनिक भत्ता मिलेगा। उन्होंने कहा कि अब होमगार्ड के जवानों को 1 तारीख को ही वेतन भुगतान किया जा रहा है। साथ ही लंबित भुगतान की स्वीकृति हो गई है ।उन्होंने कहा कि सेवानिवृत्ति के बाद डेढ़ लाख रुपए का भुगतान शीघ्र कराया जा रहा है ।बिहार के प्रत्येक प्रखंड में एक कंपनी होगा जिसके साथ तीन प्लाटून सेक्शन कमांडर तथा 10 होमगार्ड के जवान होंगे। इसके पद के साथ मान सम्मान भी दिया जा रहा है। उन्होंने बताया कि होमगार्ड किसी भी अन्य फोर्स से कम नहीं है। अनुशासन और कर्तव्यनिष्ठा के बल पर अपनी पहचान कायम करें तथा समाज मे बनी धारणा को बदले ।उन्होने कहा कि वर्तमान में होमगार्ड के द्वारा बैंक हेल्थ खनन ट्रांसपोर्ट कौशल विकास उत्पाद बीएसएनएल सहित अन्य विभागों में भी अपनी सेवाएं दे रहे हैं।उन्होने कहा कि सेवारत, सेवा निवृत्त तथा सेवा में मृत जवानो की सूची बनाकर उनके बकाये भता को शीघ्र भुगतान किया जा रहा है ।इस मौके पर आरक्षी अधीक्षक राकेश कुमार एसडीपीओ प्रभाकर तिवारी, समादेष्टा अमरेन्द कुमार,अग्निशमन पदाधिकारी संजय सिंह,फायर मेन मनोरंजन कुमार सहित बड़ी संख्या में होमगार्ड के जवान उपस्थित थे ।