DM ने E Stamping प्रणाली का किया उदघाटन

1933

जिला पदाधिकारी शैलजा शर्मा ने उद्घाटन किया

सहरसा@भार्गव भारद्वाज: कंप्यूटरीकृत प्रणाली आधारित ई स्टॉपिंग के माध्यम से गैर न्यायिक मुद्रांक की बिक्री का शुभारंभ शनिवार को जिला अधिकारी शैलजा शर्मा ने उद्घाटन कर किया।

इस अवसर पर जिला अवर प्नबंधक योगेश चौधरी सहायक निबंधन अधिकारी प्रशांत कुमार ने जिलाधिकारी को बुके देकर सम्मानित किया । तत्पश्चात राज्य सरकार द्वारा स्टॉक होल्डिंग कॉरपोरेशन के द्वारा स्टांपिंग केंद्र का उद्घाटन जिलाधिकारी ने किया।

डीएम ने कहा कि इस केन्द्र के खुलने से काफी सहुलियत होगी । इससे निबंधनार्थी जनता को अलग से बैंकों में जाकर चालान शुल्क जमा किए जाने की जरूरत नहीं रहेगी तथा लिंक बाधित रहने जैसी समस्याओं से भी छुटकारा मिलेगी।

जिला अवर निबंधक श्री चौधरी ने बताया कंप्यूटरीकृत प्रणाली आधारित माध्यम से न्यायिक मुद्राओं की बिक्री का शुभारंभ किया गया है ।साथ ही साथ दस्तावेजों के निबंधन पर प्रभार्य, समस्त शुल्क, मुद्रांक निबंधन ,भूस्वामी शुल्क पर प्रभार्य शुल्क की अदायगी भी इसी माध्यम से की जाएगी। राज्य सरकार के द्वारा स्टॉक होल्डिंग कॉरपोरेशन से करार किया गया है जो अन्य राज्यों में भी ई स्टांपिंग सुविधा प्रदान कर रही है। इसमें से प्रत्येक स्टाम्प का एक यूनिकोड दिया जाता है जिसे प्रयोग के समय लाॅक किए जाने की सुविधा के कारण दुबारा प्रयोग की संभावना खत्म हो जाएगी। न्यायिक मुद्राको को ई स्टाम्पिक के माध्यम से उपलब्ध कराने की पूर्व मे ही व्यवस्था हो चुकी है।

इस मौके पर कोषागार पदाधिकारी राजकुमार ओएस राजेश पासवान, सुनील कुमार, मोहम्मद अफरोज, अभिषेक कुमार, सचिन कुमार ,धीरेन्द्र कुमार झा, सुधीर मणि त्रिपाठी, अरविंद कुमार एवं रितिका सहित बड़ी संख्या में निबंधन कार्यालय के कर्मचारी मौजूद थे।