एक्‍यूप्रेशर कार्यशाला में चिकित्‍सकों को नए शोधों से कराया गया अवगत

115

ट्रेडिशनल चायनीज मेडिसीन पद्धति की शिक्षा दी गई

पटना: नेशनल एक्‍यूप्रेशर एसोसिएशन सह नेशनल इंस्‍टीट्यूट ऑफ अल्‍टरनेटिव मेडिसीन एंड रिसर्च सेंटर के संयुक्‍त तत्‍वावधान में एक्‍यूप्रेशर कार्यशाला का आयोजन राजधानी पटना के फ्रेजर रोड स्थित महाराजा कामेश्‍वर कंप्‍लेक्‍स में किया गया। इस कार्यशाला का विधिवत उद्घाटन ज्‍योत्‍सना कला केंद्र की निदेशक  ज्‍योत्सना कुमार ने दीप प्रज्‍जवलित कर किया। इस दौरान उन्‍होंने एसोसिएशन द्वारा शिक्षा के क्षेत्र में किये गए कार्यों की सराहना की। साथ उन्‍होंने आयोजकों को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि ऐसे कार्यशाला का आयोजन निरंतर होने से सबों को काफी फायदा होगा।कार्यशाला में डॉ विकास सिंह द्वारा सभी को TCM यानी ट्रेडिशनल चायनीज मेडिसीन पद्धति की शिक्षा दी गई। इस दौरान उन्‍होंने नेशनल एक्‍यूप्रेशर एसोसिएशन द्वारा निरंतर नए – नए शोध से चिकित्‍सकों को अवगत कराया। उन्‍होंने कहा कि य‍ह कार्य निरंतर होता है और आगे भी ऐसे आयोजन होते रहेंगे। ताकि अधिक से अधिक चिकित्‍सकों को इसका लाभ मिल सके और एक्‍यूप्रेशर चिकित्‍सा के क्षेत्र में अव्‍वल रहे।

कार्यशाला में प्रिया प्रियदशर्नी द्वारा आरिकुलर थेरेपी एवं स्‍माइल मेडिटेशन से सभी को अवगत कराया। मंच संचालन नम्रता द्वारा किया गया। कार्यशाला में सुनील प्रसाद, अरूण कुमार, किरण कुमारी, धनेश, मंतोष, निखिल, सुजाता, प्रियंका आदि ने अपना महत्‍वपूर्ण योगदान दिया।