Video:आमजनों की भागीदारी से ऐतिहासिक होगा मानव श्रृंखला-डीएम

1986
240 किलोमीटर मानव श्रृंखला निर्माण किया जाएगा
सहरसा : 19 जनवरी को होने वाले मानव श्रृंखला की तैयारी जिले में जोर-शोर से की जा रही है।इसको लेकर जिला पदाधिकारी शैलजा शर्मा ने जिले के विभिन्न प्रखंडों के पदाधिकारी व कर्मियों के साथ बैठक कर दिशा निर्देश भी जारी कर दिया गया है।इसके साथ ही जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में नुक्कड़ नाटक के माध्यम से लोगों को जागरूक भी किया जा रहा है।
19 जनवरी को 11:30 से 12:00 के बीच लोगों को कतारबद्ध तरीके से खड़ा कराकर मानव श्रृंखला बनाई जाएगी ,जिसमें नशा मुक्ति,जल-जीवन-हरियाली,बाल विवाह,दहेज उन्मूलन के पक्ष में राज्यव्यापी मानव श्रृंखला बनाना है।
बिहार सरकार शिक्षा विभाग द्वारा सहरसा जिला में 240 किलोमीटर मानव श्रृंखला निर्माण करने का लक्ष्य दिया गया है।जिसमें मुख्य मार्ग हेतु 81 किलोमीटर एवं उप मार्ग हेतु 159 किलोमीटर मानव श्रृंखला बनाने का प्रस्ताव भेजा गया है।मानव श्रृंखला के सफल क्रियान्वयन हेतु प्रखंड स्तर एवं जिला स्तर पर सभी पदाधिकारियों को योजनाबद्ध अनुसार कार्य करने के लिए कहा गया है ।
जल-जीवन-हरियाली व नशामुक्ति के समर्थन में तथा बाल विवाह एवं दहेज प्रथा को मिटाने के लिए आगामी 19 जनवरी को आयोजित होने वाली राज्यव्यापी मानव श्रृंखला में आमजनों की भागीदारी से ऐतिहासिक होगा।
उक्त बातें जिलाधिकारी शैलजा शर्मा ने समाहरणालय सभाकक्ष में प्रेसवार्ता को संबोधित करते हुए कही।

डीएम शैलजा शर्मा

उन्होंने कहा कि सुपौल, मधेपुरा और खगड़िया जिले की सीमा से सहरसा जिले का मानव श्रृंखला जुड़ेगा। 19 जनवरी को 11.30 बजे से 12 बजे तक जिला में 240 किलोमीटर मानवश्रृंखला निर्माण किया जाएगा, जिसमें 18 किलोमीटर मुख्य मार्ग और 159 किलोमीटर उपमार्ग शामिल है। डीएम ने बताया कि इसके लिए हर स्तर पर तैयारी चल रहीं है, परंतु इसे ऐतिहासिक तभी बनाया जा सकता है, जब इसका आमलोगों के बीच इसका चर्चा हो। कुरीतियों के खिलाफ लोग आधे घंटे तक हाथ से हाथ मिलाकर खड़े हों।प्रखंड स्तर पर शिक्षा विभाग, जीविका, आशा कार्यकर्ता, मनरेगाकर्मी, आवास सहायक, किसान सलाहकार, विकास मित्र, डीलर आदि के साथ तैयारी संबंधी बैठक की जा रही है। कला जत्था के तीन दलों द्वारा नुक्कड़ नाटक एवं गीत के माध्यम से सामाजिक वातावरण तैयार किया जा रहा है।

उप विकास आयुक्त राजेश कुमार सिंह ने बताया कि शिक्षा सेवक, केआरपी एवं राज्य संसाधन समूह के द्वारा नारा लेखन किया जा रहा है। बैनर होर्डिंग, मुख्यमंत्री की जनता एवं जनप्रतिनिधियों से अपील के प्रति का वितरण किया जा रहा है। जिला स्तर पर 14 जनवरी को साइकिल रैली, 15 को पदयात्रा, 16 को मशाल जुलूस, 17 को प्रभातफेरी और 18 को पुन: साईकिल जुलूस निकालकर कार्यक्रम का प्रचार- प्रसार किया जाएगा।
डीपीआरओ दिलीप कुमार देव ने बताया कि सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग की आठ टीमों द्वारा वीडियोग्राफी की जाएगी। ड्रोन कैमरा के अलावा सेटेलाईट के माध्यम से सेंन्ट्रल फोटोग्राफी की जाएगी। जिला शिक्षा पदाधिकारी जयशंकर प्रसाद ठाकुर ने शिक्षा विभाग द्वारा की जा रही तैयारी की विस्तृत जानकारी दी।