महेश अन्जुम स्मृति युवा कविता सम्मान से सम्मानित किए जाएंगे अरुणाभ सौरभ

145

एन.सी.ई.आर.टी. के भोपाल केंद्र में असिस्टेंट प्रोफेसर हैं

न्यूज़ डेस्क : केदार स्मृति शोध संस्थान बांदा एवं महेश अन्जुम स्मृति आयोजन समिति नई दिल्ली के तत्वाधान में दिया जाने वाला ‘महेश अन्जुम स्मृति युवा कविता सम्मान _2019 समकालीन हिन्दी कविता के चर्चित युवा कवि अरुणाभ सौरभ को उनके कविता संग्रह ‘दिन बनने के क्रम में’ एवं ‘पक्षधर ‘ पत्रिका के अंक 22 में प्रकाशित लम्बी कविता ‘आद्य नायिका ‘ को दिया जा रहा है ।निर्णय की प्रशस्ति में कहा गया है कि’ अरुणाभ सौरभ की कविताओं में मिथक और इतिहास के साथ परम्परा का ऐसा मिश्रण है जो समकालीनता के साथ आप से आप जुड़ जाता है । हमारे समाज में जिन संबंधों को प्रतिबंधित माना जाता है ,उनको ले कर उठाये गये सवाल ,इनकी कविता को एक नया आधार देते दिखाई देते हैं ।हमारे यहा की जो सामाजिक संरचना हैं ,कविताओं में उनका प्रस्तुति करण समकालीन हिन्दी कविता मेँ इनको एक नई पहचान देता दिखाई दे रहा है ।इस चर्चित विशिष्ट सम्मान के निर्णायक  गोपेश्वर सिंह , देवेन्द्र चौबे , मिथिलेश श्रीवास्तव , प्रेम कुमार मणि एवं परामर्शी कुसुम लता सिंह व प्रबंधन सहयोग विशेष रुप मेँ नीरज कुमार मिश्र का रहा है । ज्ञातव्य हो कि पिछ्ले वर्ष यह सम्मान युवा कवि घनश्याम देवांश को उनके कविता संग्रह ‘आकाश मे देह ‘ के लिए दिया ग्या था । इस चर्चित सम्मान के मुख्य संयोजक श्री मती शकुन्तला देवी एवं अध्यक्ष श्री सूरज कुमार हैं , यह सम्मान अरुणाभ सौरभ को दिल्ली में फरवरी के पहले सप्ताह में एक विशिष्ट आयोजन में दिया जायेगा ।अरुणाभ सौरभ को इससे पहले मैथिली कविता संग्रह ‘एतबेटा नहि’ पर साहित्य अकादमी का युवा पुरस्कार मिल चुका है।अरुणाभ मूल रूप से चैनपुर गावँ के निवासी है।सम्प्रति एन.सी.ई.आर.टी. के भोपाल केंद्र में असिस्टेंट प्रोफेसर हैं।अरुणाभ सौरभ को मिले इस सम्मान से कोशी क्षेत्र के साहित्यकारों में हर्ष व्याप्त है।डॉ महेंद्र झा,डॉ ललितेश मिश्र,शम्भूनाथ झा साँवरिया,डॉ राम चैतन्य धीरज,अरविंद नीरज,मैथिली शब्द लोक के संयोजक मुख्तार आलम,डॉ कमल मोहन चुन्नू,सुभाष चन्द्र झा,सुमन शेखर आजाद,दिलीप झा दर्दी आदि ने बधाई दी है।