घर से भाग रहे नाबालिगों को आरपीएफ जवानों ने पकड़ा, आरक्षी पदाधिकारी दिलीप मंडल ने परिजनों को किया सुपुर्द

कोशी एक्सप्रेस: ब्रजेश चन्द्र

मधुबनी जिले के जयनगर में इन दिनों अपराधियों का अपराध बढ़ हुआ है। इसी बीच एक सुकून देने वाली खबर जयनगर रेलवे के आरपीएफ बैरक से आयी। दरअसल चार नाबालिग बच्चे घर से भाग कर दिल्ली जाने के फिराक में थे, इसी बीच ऑन ड्यूटी आरपीएफ जवान मनोज कुमार साह को इन चारों बच्चों की गतिविधियों पर संदेह हुआ। पूछताछ से पता चला कि वो सभी चारों नाबालिग लड़के घर से भाग कर दिल्ली जाने की फिराक में थे।
उन्होंने तुरंत बिना देर किए हुए sipf/rpf/op/jyg को खबर किया। प्रभारी के आदेशानुसार आरपीएफ जवान ने तत्काल उनको हिरासत में लेकर आरपीएफ बैरक ले आये। उन्होंने बच्चों को बैरक में ही बिठाया ओर उनके परिजनों का मोबाइल नंबर लेकर उनको खबर की।
पूछताछ के क्रम में उन चारों बच्चों ने अपना नाम क्रमशः 1. विभेष कुमार, पिता:- ललित कामत, उम्र:-13 वर्ष, घर:-भरहा, फुलपरास, मधुबनी,

2. नाम:-जयप्रकाश कुमार, पिता:- दिलीप कामत, उम्र:-14 वर्ष, घर:-कामतौलिया, लदनियां, मधुबनी,

3. नाम:-गौरीशंकर कुमार, पिता:- श्रीकुमार कामत, उम्र:-13 वर्ष, घर:- भरहा, फुलपरास, मधुबनी,

4. नाम:- देवेंद्र कुमार, पिता:- बेचन कामत, उम्र:- 15 वर्ष, घर:- भरहा, फुलपरास, मधुबनी बताया।

                              तत्पश्चात उन बच्चों के परिजन जयनगर आरपीएफ बैरक में पहुंचें और अपने बच्चों की पहचान की। इसके बाद सही सलामत हालत में सुपुर्दगीनामा बनवा कर बच्चों को उनके परिजन को सुपुर्द कर दिया गया।
इसी बीच उन बच्चों के परिजनों ने मौके पर मौजूद आरक्षी जवान दिलीप मंडल को दिल से धन्यवाद दिया और कहा कि आज आप भगवान की तरह हमारे बच्चों को बचा लिए नही तो पता नही क्या हो जाता हमारे बच्चों के साथ। इसके बाद वो अपने बच्चों को अपने साथ लेकर चले गए।