नागरिकता संशोधन बील देश के हित में अच्छा है, कानून विरोध के आर में कुछ राजनीतिक दल हिंसा फैला रहे हैं -गीतेश झा

कोशी एक्सप्रेस: बी. चन्द्र की रिपोर्ट

अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के पूर्व जिला संयोजक गीतेश झा ने कहा कि देश में कई जगहों पर हिंसा फैलाने की कोशिश में ऐसे लोग जुटे है जिन्हें जानता लगातार दो बार नकार चुकी है, नागरिकता संशोधन कानून में धुसपैठिये को भारत के अंदर से खदेरने का लक्ष्य है, इस कानून के पक्ष में हर एक व्यक्ति को सरकार का साथ देना चाहिए नाकि किसी पार्टी या किसी खास जाति मजहब विशेष के नाम पर हिंसा करना । जिस प्रकार से धुसपैठियो को संरक्षण देकर उसे पोषित करने वाली कांग्रेस व उसके समर्थक दल नागरिकता संशोधन कानून का विरोध कर देश में भय और भ्रम की राजनीति फैला रही है। ऐसे दलो से तालुकात रखने वालो के द्वारा राजनीतिक रोटियां सेकने को लेकर इस मुद्दे पर बिहार बंद करवाना और जगह जगह पत्रकारो पर हमला और सरकारी सम्पतियों का नुकसान से ही ऐसे दलो की सच्चाई सभी के सामने आता है , झूठ के आधार पर राज्य के अंदर सामाजिक सदभाव को बिगाड़ने की पुरी तैयारी किया गया था , अफवाहें कितनी खतरनाक होती है, यह संविधान धर्मनिरपेक्षता और आजादी के नाम पर कुछ राज्यों में जारी उत्पात को देखकर पता चलता है ।

                    देश के प्रधानमंत्री और गृहमंत्री जी के द्वारा बार बार स्पष्ट किया जाना कि यह कानून नागरिकता देने के लिए है बावजूद कुछ राजनीतिक दलों द्वारा नागरिकता संशोधन कानून को देश के नागरिकों के खिलाफ बताकर लोगों को भड़काने का प्रयास कर इस मुद्दे पर दुष्प्रचार लगातार जारी है। उपद्रवी तत्वों के झांसे में न आए और अफवाह फैलाने वालो के बारे में तुरंत प्रशासन को सूचित करें।