समाजिक ताना-बाना को बिगाड़ने वाले समाज के किसी भी संप्रदाय के लोगों को बख्शा नहीं जाएगा :DIG

1412
प्रशासन द्वारा 72 घंटे के अंदर कार्रवाई की जाय
सहरसा: नागरिकता संशोधन विधेयक के विरोध में शनिवार को निकाले गए विरोध मार्च जुलूस में शामिल असमाजिक तत्वों द्वारा सिमरी बख्तियारपुर स्टेशन से डाककबंगला चौक तक में किए गए तोड फोड के विरोध में सिमरी बख्तियारपुर में बंद का असर पूरे दिन देखा गया।

दिन के 12 बजे सिमरी बख्तियारपुर पहुंचे एसपी राकेश कुमार ने रानीबाग एवं स्टेशन चौक, बडी दुर्गा स्थान में जाकर दोनों पक्षो के युवाओं को समझा-बुझाकर शांत किया। तत्पश्चात संध्या चार बजे सिमरी बख्तियारपुर थाना में दोनों समुदाय के प्रबुद्वजनों की मौजुदगी में एवं अनुमंडल पदाधिकारी वीरेन्द्र कुमार के संचालन में शांति समिति की बैठक आयोजित की गयी।बैठक मे डीआइजी सुरेश प्रसाद चौधरी,जिला पदाधिकारी शैलजा शर्मा,एसपी राकेश कुमार,एएसपी बलीराम चौधरी,एसडीपीओ मृदुला कुमारी,स्थानीय विधायक जफर आलम,जदयू व्यवसायिक प्रकोष्ठ के अध्यक्ष चन्द्रमणि,लोजद नेता रितेश रंजन,भाजपा नगर अध्यक्ष संजीव कुमार,भाजपा नेता अरविन्द सिंह,थाना अध्यक्ष रणवीर कुमार,प्रखंड मुखिया संघ के अध्यक्ष ललन कुमार,सलखुआ मुखिया संघ अध्यक्ष सह राजद नेता मिथिलेश विजय,नगर उपाध्यक्ष विकास कुमार विक्की सहित अन्य गण्मान्य मौजूद रहे। बैठक में दोनों संप्रदाय के वक्ताओं ने कहा कि जुलूस में तोडफोड करने वाले असमाजिक तत्वों की पहचान बाजार में लगे सीसीटीवी फुटेज एवं आम आवाम में मोबाइल के द्वारा कैद किए गए फुटेज से पहचान कर ऐसे लोगों के खिलाफ प्रशासन द्वारा 72 घंटे के अंदर कार्रवाई की जाय।इस पर डीआइजी सुरेश प्रसाद चौधरी ने कहा कि आप सौहार्द और शांति बनाए रखें। प्रशासन हर हाल में गलत करने वालों को चिन्हित कर कार्रवाई करेगी। उन्होंने स्पष्ट लहजे में कहा कि समाजिक ताना बाना को बिगाड़ने वाले समाज के किसी भी संप्रदाय के लोगों को बख्शा नहीं जाएगा।जिला पदाधिकारी शैलजा शर्मा कहा कि सिमरी बख्तियार गंगा-जमुनी तहजीब और संप्रदायिक सौहार्द का मिसाल रहा है। बस आपलोग गत दों दिनो में बने इस माहौल में दाग लगने न दें। फिर से वह सौहार्द कायम हो और आपसी भाइचारे का माहौल कायम रहे।जदयू नेता चन्द्रमणि ने कहा कि हम लोग कभी नहीं चाहते की यहां का माहौल खराब हो हरहाल में दोषी बख्शे नहीं जाएं।विधायक जफर आलम ने कहा कि बाजार के लोग हमारे अपने हैं। मैं कभी नही चाहूंगा कि इनके साथ किसी प्रकार का भेदभाव हो। उन्होंने कहा कि निश्चित रूप से दोषियों के विरूद्व कार्रवाई हो। मैं ऐसे किसी लोगों के पक्ष में पैरवी नहीं करूंगा। विधायक ने सभी लोगों से सौहार्द बनाए रखने की अपील की।मौके पर हस्सान आलम,विकास कुमार,इमाम संघ के अध्यक्ष मौलाना मुमताज रहमानी,विपीन गुप्ता,अशोक कुमार,आदेश कुमार,पूर्ण प्रसाद यादव,भाजपा नेता विजय कुमार भीएस,अरविद गुप्ता,भूषण सिंह,व्यवसायिक जदयू के प्रखंड अध्यक्ष पंचानंद स्वर्णकार,कांग्रेस नेता महबूब आलम,पंकज कुमार,सुशील केशरी,शिक्षक अकबर आलम,सुशील केशरी,विनय कुमार यादव,भाजपा नेता श्रीकांत पौद्दार,सोनू कुमार,कंतेश भगत,रितु गुप्ता, गुलजार आलम,पंकज भगत सहित गण्मान्य लोग मौजूद थे।

सोर्स@दैनिक जागरण