मोदी के शासन काल में देश में अराजकता का माहौल पैदा हो गया है:केसर सिंह

1150

प्याज की कीमतों ने आसमान छू लिया है

सहरसा : एआईसीसी सदस्य एवं प्रदेश कांग्रेस कमेटी के महासचिव केशर कुमार सिंह ने दिल्ली के रामलीला मैदान में आयोजित भारत बचाओ रैली में शामिल होने से पहले कहा कि नरेंद्र मोदी के शासन काल में देश में अराजकता का माहौल पैदा हो गया है। बेरोजगारी 45 वर्षों में सर्वाधिक हो चुकी है। देश के 6 प्रमुख सेक्टरों कोयला, ऊर्जा, निर्माण आदि क्षेत्रों में लगातार गिरावट आई है। मंहगाई चरम पर है, प्याज की कीमतों ने आसमान छू लिया है। सरकार की गलत नीतियों के कारण कारण भारतीय किसानों कम कीमत के कारण सड़क पर अपने उत्पाद को फेंकना पर रहा है और सरकार दाल, खाद्य तेल और प्याज का आयात कर अपने व्यापारिक मित्रों को फायदा पहुंचाने का काम कर रही है। सकल घरेलू उत्पाद जीडीपी की दर 4.5 फीसद हो गई है। जबकि मनमोहन सिंह के शासनकाल में यह 10 फीसद से ज्यादा हो गई थी। जीएसटी टैक्स के संकलन में भी कमी आयी है। उन्होंने कहा कि एक तरफ देश में आर्थिक मंदी छाई है तो दूसरी तरफ अमित शाह के बेटे और भाजपा की संपत्ति में रिकॉर्ड वृद्धि हुई है ।सरकार बीपीसीएल जैसी मुनाफा कमाने वाले सार्वजनिक उपक्रमों के संपत्तियों का विनिवेश कर हर स्तर पर निजीकरण को बढ़ावा दे रही है। देश के सभी विश्वविद्यलयों में शैक्षणिक वातावरण समाप्त हो गया है । हर स्तर पर शुल्कों में बढ़ोतरी और शिक्षा में सरकारी निवेश घट रहा है।एक तरफ देश में आर्थिक मंदी छाई है तो दूसरी तरफ अमित शाह के बेटे और भाजपा की संपत्ति में रिकॉर्ड वृद्धि हुई है।बिना संसदीय प्रणाली का सम्मान किए धारा 370 और नागरिकता संशोधन बिल को पास कर देश में अराजकता का माहौल पैदा कर दिया गया है।पूर्वोत्तर में कर्फ्यू लगा है और लोग सड़कों पर उतरे है सेना को बुलाना पर गया है।संविधान की प्रस्तावना के विपरित कार्य किया गया है।कांग्रेस पार्टी भाजपा की इस देश विरोधी नीतियों के खिलाफ रामलीला मैदान में सोनिया गांधी के नेतृत्व में भारत बचाओ रैली का आयोजन कर रही है जिसमें सहरसा जिले से बड़ी संख्या में कांग्रेस जन विभिन्न टुकड़ियों में रवाना हो चुके हैं।