2020 विधान सभा चुनाव से पूर्व एकजुट हुए वैश्‍य संगठन

103

विधान सभा चुनाव में भागीदारी के हिसाब से 50 विधायकों का निर्वाचन होगा लक्ष्‍य : डॉ आनंद कुमार

पटना : वैश्य संगठनों की एकीकृत संस्था वैश्य महापंचायत के राज्‍य प्रतिनिधियों की बैठक आई एम ए हॉल, पटना में सफलतापूर्व संपन्‍न हुई, जिसकी अध्‍यक्षता समन्‍वय समिति के सदस्‍य डॉ विमल कारक ने की। बैठक में मुख्‍य रूप से आगामी 2020 विधान सभा चुनाव को लेकर वैश्‍य समाज की रणनीति पर चर्चा हुई।इस दौरान मंच संचालन करते हुए समन्‍वय समिति के डॉ आनंद कुमार ने कहा कि बिहार की कुल जनसंख्‍या में वैश्‍य समाज की भागीदारी 26 प्रतिशत है। इस हिसाब से आगामी विधान सभा चुनाव में कम से कम 50 विधायकों को निर्वाचित कराकर बिहार के सर्वोच्‍च पद पर वैश्‍य समाज के नेता को बिठाना हमारा लक्ष्‍य है और हम एकजुट होकर अपने सपने को पूरा करेंगे। वहीं, समिति के सदस्‍य ई. सुंदर साहू ने कहा कि बिहार में पंचायत स्‍तर तक जनगणना कराकर सभी वैश्‍यों की उपजातियों को सरनेम में वैश्‍य लगाने के लिए हम प्रेरित करेंगे। यह सेंसश 2021 में आहूत है। हमलोगों की संख्‍या को विभिन्‍न उपजातियों में दिखलाकर साजिश किया जा रहा है। उसे हम सरकार के सामने उजागर करेंगे।इससे पहले अपने अध्‍यक्षीय भाषण में डॉ विमल कारक ने घोषणा की कि बिहार के कोने कोने में जाकर एक कार्यकारिणी समिति का गठन किया जायेगा, जो आगामी कार्यक्रम की घोषणा कार्यसमि‍ति की बैठक के माध्‍यम से किया जायेगा। वहीं, समिति के सदस्‍य डॉ जगन्‍नाथ प्रसाद गुप्‍ता ने बिहार से आये हुए अतिथियों का स्‍वागत किया और संगठन के प्रासंगिकता पर प्रकाश डाला। वहीं, संचालन समिति के सदस्‍य 26 प्रतिशत आबादी वाला वैश्‍य समाज 56 उपजातियों में विभक्‍त है। उसे एक कर एक मजबूत संगठन बनाने के लिए संकल्‍प लेने की जरूरत है।बैठक में विभिन्‍न संगठन के महामंत्रियों क्रमश: दिलीप कुमार गुप्‍ता, डॉ दिनेश्‍वर प्रसाद, नीतिन अभिषेक, अजय गुप्‍ता, पीके चौधरी, राज कुमार रश्मि, रोश्‍वर राज, तैलिक साहू समाज के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष प्रेम गुप्‍ता एवं कांति केसरी ने आने वाले दिनों में पटना के श्रीकृष्‍ण मेमोरियल हॉल और गांधी मैदान पटना में ऐतिहासिक सम्‍मेलन आयोजित करने की बात कही। उन्‍होंने इस आयोजन के अभूतपूर्व होने की रणनीति पर भी चर्चा की।वहीं, राज्‍य भर से आये समाज के अन्‍य प्रतिनिधि एवं वैश्‍य समाज के विभिन्‍न उपजातियों के अध्‍यक्षों और उनके द्वारा नामित प्रतिनिधियों ने वैश्‍य समाज पर हो रहे अत्‍याचार, लूट और दोहन के संबंध में चर्चा की और अपने प्रतिनिधियों से इसे निवारण के लिए अनुरोध किया। मौके पर डॉ कारक, डॉ आनंद, ई साहू, डॉ गुप्‍ता और कमल नोपानी ने संयुक्‍त रूप से कहा कि वैश्‍य महापंचायत की यह बैठक अपने समाज को एकजुट करने के लिए की गई।  अंत में कमल नोपनी ने तमाम आगतों का धन्‍यवाद ज्ञापन किया।