अभिनेत्री अनारा गुप्‍ता ने पटना के आपदा पीडि़तों के बीच किया मच्‍छड़दानी का वितरण

332

आपदा से पीडि़तों के बीच मच्‍छड़दानी का वितरण

पटना : मिस जम्‍मू रहीं अभिनेत्री अनारा गुप्‍ता ने आज राजधानी पटना में बीते दिनों आई आपदा से पीडि़तों के बीच मच्‍छड़दानी का वितरण किया। उन्‍होंने पटना के राजेंद्र नगर स्थित वैशाली गोलंबर पर सैकड़ों जरूरतमंद लोगों के बीच मच्‍छड़दानी का वितरण किया, ताकि वे जलजमाव के बाद डेंगू – मलेरिया के मच्‍छड़ों से खुद को बचा सकें, ताकि वे बीमार न हों। अनारा ने अपनी संस्‍था ए जी फाउंडेशन के तहत करीब सैकड़ों लोगों को मच्छड़दानी का वितरण किया और आगे भी जरूरत मंद लोगों की सहायता करने की बात कही।इस दौरान अनारा ने बताया कि हम टीवी और न्‍यूज पेपर में पटना की हालत देख रहे थे। हमें काफी दुख हुआ कि इतना बड़ा शहर महज दो दिन की बारिश में कैसे डूब गया। मैं वहां से कुछ कर नहीं पा रही थी, लेकिन तब भी मैंने पेटीएम से मदद भेजी थी। लेकिन फिर भी मन विचलित था। बाद में मुझे पता चला कि जलजमाव खत्‍म होने के बाद जानलेवा बीमारियों का खतरा बढ़ गया है। खास कर डेंगू और मलेरिया के केस बहुत ज्‍यादा आ रहे हैं। तो मुझे लगा कि लोगों को इससे बचाने के लिए मच्‍छड़दानी का वितरण करना चाहिए। साथ ही उन्‍होंने ये भी बताया कि उन्‍हें पटना के मार्केट में मच्‍छड़दानी नहीं मिली, तब उन्‍होंने इसे ऑर्डर देकर बनवाया।अनारा ने कहा कि इस संकट के लिए जिम्‍मेवारी कहीं न कहीं सरकार की ही बनती है। ऐसा तो है नहीं कि शहर बहुत निचले स्‍तर पर है। ड्रेनज सिस्‍टम ठीक नहीं है। हर साल पटना में पानी यूं भर जाता है। पिछले साल यहां जलजमाव हुआ था, तब लेकिन कम हुआ था। इस बार यह ज्‍यादा हुआ तो जिम्‍मेवार लोगों को इसे गंभीरता से लेकर ड्रेनज सिस्‍टम में सुधार करना चाहिए। उन्‍होंने कहा कि जब हमारे लोग मुसीबत में हों, तो मुझे सुकून कैसे मिल सकता था। इसलिए मैं मुंबई से यहां कर लोगों के बीच मच्‍छड़दानी का वितरण किया ।