समस्तीपुर मंडल के 50 वर्ष पर जारी बुकलेट में कोसी क्षेत्र के साथ भेदभाव

197

कोसी वासी खुद को अपेक्षित महसूस कर रहे हैं

डेस्क : समस्तीपुर मंडल के स्वर्णिम 50 वर्ष पूरे होने पर जारी किताब में कोसी क्षेत्र की धार्मिक व ऐतिहासिक स्थलों को शामिल नहीं किया गया। कोसी क्षेत्र की प्रसिद्ध सहरसा के महिषी गांव स्थित सिद्धपीठ मां उग्रतारा स्थान, सहरसा जिले में ही स्थित उत्तर बिहार का एकमात्र कन्दाहा सूर्य मंदिर, बाबानगरी के नाम से विख्यात मधेपुरा का बाबा सिंहेश्वर स्थान और सुपौल जिले के लौरिक को शामिल नहीं करने से कोसी वासी खुद को अपेक्षित महसूस कर रहे हैं।समस्तीपुर मंडल का स्वर्णिम 50 वां वर्ष केक काटकर खुशी के माहौल में मनाया गया। डीआरएम अशोक माहेश्वरी, सीनियर डीसीएम वीरेन्द्र कुमार सहित अन्य अधिकारियों ने केक काटा। मौके पर सभी शाखा अधिकारी मौजूद थे।