BNMU मे ग्रेजुएशन के दस हजार छात्र नामांकन से वंचित : मनीष

289
कुलपति छात्र हित मे अविलंब बढाए सीट : NSUI
ग्रेजुएशन मे नामांकन नही लेना है “शिक्षा अधिकार कानून” का हनन
सहरसा : बीएन मंडल विश्वविद्यालय के विभिन्न महाविद्यालय में स्नातक कला एवं विज्ञान के मुख्य-मुख्य सभी विषय में सीट फूल हो जाने एवं सर्वनारायण सिंह रामकुमार सिंह महाविद्यालय में स्नातक में हुई व्यापक धांधली से परेशान हजारों छात्र नामांकन से वंचित हो कॉलेज-कॉलेज भटक रहे है और महाविद्यालय से लेकर विश्वविद्यालय तक सभी पदाधिकारी बेसुध है।
एनएसयूआई छात्र संगठन ने एसएनएस आरकेएस महाविद्यालय में फैली स्नातक नामांकन में आरजकता को लेकर उग्र आंदोलन करते हुए सम्पूर्ण महाविद्यालय को बंद कर महाविद्यालय और विश्वविद्यालय प्रशासन के खिलाफ जमकर प्रदर्शन किया।
एनएसयूआई के राष्ट्रीय संयोजक मनीष कुमार के नेतृत्व में हुई आंदोलन में मौजूद सैकड़ो छात्र-छात्राओं ने प्राचार्य कक्ष में मौजूद कॉलेज के पदाधिकारी को बाहर निकलवाकर प्राचार्य कक्ष में ताला जड़ दिया।
मालूम हो कि नामांकन को लेकर दर्जनों छात्राएं जो एक महीना से परेशान हो रही थी। जब छात्राएं प्राचार्य कक्ष में नामांकन को लेकर पूछताछ करने गयी तो प्राचार्य कक्ष में मौजूद कॉलेज पदाधिकारी सुभाष प्रसाद सिंह ने अभद्र व्यवहार करते हुए धक्का-मुक्की तक कर बैठे जिसको लेकर छात्राओं ने प्रेस के सामने भी अपनी बयान दी। जिसके बाद एनएसयूआई छात्र संगठन के कार्यकर्ता और उग्र हो गए।
आंदोलन के नेतृत्व कर रहे एनएसयूआई के राष्ट्रीय संयोजक मनीष कुमार को उक्त प्रोफेसर ने कहा कि गुंडागर्दी बंद करो नहीं तो केस ठोककर अभी जेल भिजवा देंगे।
एनएसयूआई के राष्ट्रीय संयोजक मनीष कुमार ने कहा कि लगातार चार दिनों से बीएन मंडल के कुलपति और प्रतिकुलपति को टेलीफोन पर सारी वस्तु स्थिति से अवगत कराते हुए छात्रहित में सभी महत्वपूर्ण विषयों में सीट अविलंब बढ़ाने की मांग किया जिस पर विश्वविद्यालय प्रशासन ने गैर जिम्मेदाराना बयान देते हुए कुलपति ने कहा कौन सा छात्र क्लास करता है किसी भी विषय में नामांकन करवा लो डिग्री ही लेना है।
वही प्रतिकुलपति ने कहा मजबूरी है सभी कॉलेजों में मैथिली, उर्दू और संस्कृत विषय में सीट खाली है। बचे हुए छात्र को इसी विषय में एडमिशन करवा दो। जिसपर एनएसयूआई ने विरोध जताते हुए कहा कि विश्वविद्यालय प्रशासन गैर जिम्मेदाराना बयान देना बंद करें और अविलंब राजभवन जाकर सभी महत्वपूर्ण विषयों में सीट बढ़ाए क्योंकि बीएन मंडल विश्वविद्यालय के दस हजार से ज्यादा छात्र नामांकन से वंचित हो सड़क पर दर-दर की ठोकर खा रहा है।
उन्होंने कहा कि क्या हम छात्रों को ग्रेजुएशन करने का अधिकार भी नहीं है। एनएसयूआई छात्र नेताओं ने कहा जब तक विश्वविद्यालय प्रशासन सीट नहीं बढ़ाती है तब तक आंदोलन जारी रहेगा।
मौके पर एनएसयूआई के जिला महासचिव अमित कन्हैया, नीतीश कुमार, रवीशंकर यादव, चंचल सिंह राजपूत, बंटी झा, दिवाकर कुमार ठाकुर, पिंटू कुमार, हिमांशु झा, महेश कुक्कू, गुड्डू झा, सागर पंडित, छात्र लोजद के जिलाध्यक्ष शहनवाज आलम, शंकर कुमार, आशीष, पल्लवी, निधि, नेहा, काजल, पूजा, पिंकी, शिल्पी, प्रियंका, साक्षी आदि मौजूद रहे |