दीया मिर्जा ने फ्रीडम के महत्‍व दिखाने के लिए बनवाया टैटू ‘आजाद’

1625

हम सभी आजाद पैदा हुए हैं

डेस्क: यूं तो टैटू अपने शरीर पर टैटू बनवाना फिल्‍म स्‍टारों के लिए कोई नई बात नहीं है, लेकिन एक्‍टर – प्रोड्यूसर दीया मिर्जा ने जिस वजह से अपने हाथों पर परमानेंट टैटू बनवाया है, जो लोगों का ध्‍यान खींचने वाला है। हमारे जीवन में स्वतंत्रता के महत्व कितना है, दीया ने इसको प्रदर्शित करता एक परमानेंट टैटू बनवाया है, जिसमें लिखा है – ‘आजाद’। दरअसल दीया ने अभी हाल ही में अपनी पहली वेब सीरीज़ ‘काफिर’ में शानदार अभिनय किया था, उसी किरदार से प्रेरित होकर दीया ने अपने हाथों पर यह टैटू बनवाया है। दीया की इस मुहीम में निर्देशक सोनम नायर और फ़ोटोग्राफ़ी के निर्देशक प्रतीक शाह भी शामिल हुए। उन्‍होंने भी टैटू बनवाया।

मिस एशिया पेशिफिक रह चुकी बॉलीवुड दिवा दीया मिर्जा ने इसकी जानकारी अपने सोशल मीडिया हैंडल पर तस्वीरें साझा करते दी और कहा, ‘हम में से ज्यादातर लोग अपनी आजादी को देखते हैं। ‘काफिर’ ने मुझे एक बार फिर से मेरी आजादी को एप्रीसियेट करने के लिए याद दिलाया। दीया ने कहा, ’हम सभी आजाद पैदा हुए हैं। सोनम और प्रतीक के साथ यह करना खास था क्योंकि हमने पिछले कुछ महीनों में इसे साझा किया है।‘

आपको बता दें कि दीया ने यह ‘आज़ाद’  टैटू सुंदर देवनागरी लिपि में लिखवाई है, जो लगभग उर्दू की तरह दिखाई देती है। अपने व्यक्तित्व के साथ पूरी तरह से गूंजते हुए, टैटू इस कूटनीति की दुनिया में स्वतंत्रता के महत्व को फिर से स्थापित करता है। वह हमेशा अपनी जमीन पर खड़ी रही और डर के कारण, जो सही है, उसके लिए एक स्टैंड लिया। उनके व्‍यक्तित्‍व के मैच करता यह टैटू कूटनीति से भरी इस दुनिया में स्वतंत्रता के महत्व को बहाल करता है। वह हमेशा अपने दम पर बिना डरे के सच के साथ खड़ी रही हैं।