संभावित बाढ़ को लेकर जिला प्रशासन अलर्ट,आपदा से निबटने के लिए डीएम ने दिए निर्देश

1828
तटबंध के प्रत्येक किलोमीटर पर होमगार्ड जवान की तैनाती होगी
सहरसा : जिला पदाधिकारी शैलजा शर्मा ने अपने कार्यालय कक्ष में संभावित बाढ़ आपदा से संबंधित बैठक की।
बैठक में जिला पदाधिकारी ने अधिकारियों को कई दिशा-निर्देश देते हुए कहा कि बाढ़ के समय आवश्यक  दवाओं की उपलब्धता की ऑनलाइन इंट्री करा लें। सदर अस्पताल तथा अन्य अस्पतालों में उपलब्ध दवाओं की सूची आपदा कार्यालय को उपलब्ध करायें ताकि उसका भौतिक सत्यापन कराया जा सके। सिविल सर्जन अनुपलब्ध दवा को शीघ्र उपलब्ध कराने के लिए सभी आवश्यक कदम उठायें। साथ ही सभी दवाओं की एक्सपायरी डेट की जांच करा लें। आशा, ए.एन.एम. की मदद से बाढ़ से प्रभावित क्षेत्र की गर्भवती महिलाओं, धात्री माताओं आदि की सूची पता, मोबाइल नंबर के साथ तैयार कर 18 जून तक उपलब्ध करायें।यदि किसी पी.एच.सी. में नाव की आवश्यकता हो, तो उसकी मांग कर लें।
कर्यपालक अभियंता सिंचाई ने बताया कि 25 जून को नहर में पानी छोड़ा जाएगा जो 27-28 जून तक सहरसा पहुँचेगा।शनिवार, 15 जून को एम.वी.आई. नाव का पंजीकरण तथा सत्यापन करेंगे।सी.ओ. और संबंधित थाना की जिम्मेवारी होगी कि नाव पर क्षमता से अधिक लोग सवार न हो। 15 जून से तटबंध के प्रत्येक किलोमीटर पर होमगार्ड जवान की तैनाती होगी। उन्हें टॉर्च, छाता, सीटी आदि की व्यवस्था ससमय हो जानी चाहिए।तटबंध सुरक्षा के लिए रखी गई सामग्री का सत्यापन रविवार 16 जून तक आपदा प्रभारी करा लें।
पशु दवाओं की सूची जिला पशुपालन पदाधिकारी उपलब्ध करायें। उसका सत्यापन कराया जाएगा।सभी बाढ़ आश्रय स्थल में अतिक्रमण आदि तथा वर्षा मापी यंत्र का सत्यापन संबंधित प्रखंड के वरीय प्रभारी पदाधिकारी शनिवार 15 जून को अवष्य कर लें।
बैठक में सिविल सर्जन, निदेशक डी.आर.डी.ए., प्रभारी पदाधिकारी आपदा तथा अन्य      संबंधित पदाधिकारी मौजूद थे ।