महादलित बच्चों के बीच शिक्षा का अलख जगा रहा प्रगति क्लासेज 

390

बच्चों के बीच शैक्षणिक सामग्री का वितरण

सहरसा : ज़िला मुख्यालय के रिफ्यूजी कॉलोनी स्थित प्रगति क्लासेज द्वारा महिषी प्रखंड के मैना(महादलित टोला)में नि:शुल्क प्राथमिक शिक्षा दान हेतु एक केंद्र की शुरुआत की गई है साथ ही वहां के बच्चों के बीच शैक्षणिक सामग्री का वितरण भी किया गया ।गरीब तथा जरूरतमंद बच्चों और लोगों को मुफ्त में शिक्षा देने का काम कर रही  हैं।

बताते चलें कि प्रगति क्लासेज समय-समय पर ज़िले में जगह-जगह गरीब, कमजोर,पीड़ित तथा जरूरतमंद बच्चों को मुफ्त में शिक्षा दान कर रहीं हैं। प्रगति क्लासेज गरीब बच्चों के बीच जाकर शिक्षा की अलख जगाने का काम कर रही हैं।

प्रगति क्लासेज के संस्थापक नंदन कुमार और उनके सहयोगी निःशुल्क शिक्षा देने के अभियान मे निकल पड़े है।संस्थापक श्री कुमार ने कहा कि निःशुल्क शिक्षा केन्द्र में उपस्थित बच्चों के खुशी को देख अपार उर्जा प्रदान हो रही थी ।हमारा संकल्प एक कदम समाज के शैक्षणिक उत्थान के लिए है।नंदन कहते है कि शिक्षित हो और अंधविश्वास आदि से लोग दूर रहें। उनका कहना है सभी शिक्षकों को जरूरतमंद व प्रतिभावान बच्चों को मुफ्त में पढ़ाना चाहिए। इससे ना केवल खुशी मिलती है, बल्कि आत्म संतुष्टि भी प्राप्त होती है। शिक्षा केवल ज्ञान ही नहीं परोपकार की भाषा की भी सिख देती है।

प्रगति क्लासेज कई साल से गरीब जरूरतमंद छात्रों के बीच शिक्षा का दीप जला रहे हैं। आज जहां शिक्षा का बाजारीकरण हो राह है इस दौर में भी प्रगति क्लासेज  छात्रों को नि:शुल्क पढ़ाने का सलाह के साथ मदद भी करते हैं।

शिक्षित समाज के बिना देश का विकास संभव नहीं

नंदन कुमार ने कहा कि जीवन का ध्येय सुशिक्षित समाज है। उनका कहना है कि जब तक समाज शिक्षित नहीं होगा देश का विकास नहीं हो सकता है।अपने मिशन के बारे में कहते हैं कि अभी मैना महादलित टोला में निःशुल्क शिक्षा एवं पाठ्य सामग्री का वितरण कर शिक्षा का माहौल बना रहे हैं लेकिन इसे पचास गांवों तक ले जाने की तमन्ना है। इस काम में और लोगों के आने की आवश्यकता है।

दृढ़ इच्छाशक्ति के आगे हर मुश्किल हो जाती है आसान

नंदन कुमार का कहना है कि बच्चों को नि:शुल्क तथा जरूरतमंद बच्चों को मदद करनें में एक अलग ही आनंद मिलता है। जिसका अंदाजा हम और आप लगा भी नहीं सकते। वे चाहते है कि जो प्रयास वह कर रहे है, उसमें सरकार भी भागीदार बने और पढ़े लिखे युवाओं को एक अभियान के माध्यम से जोड़कर देश के कोने-कोने, हर गांव हर पाठशाला तक पहुंचे। निःशुल्क शिक्षा दान में प्रगति क्लासेज के संस्थापक नंदन कुमार के साथ को फाउंडर ई विजय भुषण पथिक,ई आनंद कुमार, सुरेन्द्र यादव, शंकर सादा,रामविलास सादा सहित अन्य ग्रामीण का सहयोग मिल रहा है ।