मधुबनी एवं झंझारपुर लोकसभा सीट पर एनडीए क़ी रिकार्ड तोड़ जीत

मधुबनी से दिनेश सिंह के साथ बी.चन्द्र की रिपोर्ट

मधुबनी एवं झन्झारपुर लोकसभा सीट पर एनडीए क़ी रिकार्ड तोड़ जीत, मोदी सुनामी में महागठबंधन क़ी नैया डूबी
मधुबनी – लोकसभा चुनाव 2019 के लिए 23 मई को हुए चुनाव परिणाम ने देश में एनडीए गठबंधन को भारी बहुमत देकर एक बार फिर लोगों को मोदी लहर की याद दिला दी। 
मधुबनी लोकसभा क्षेत्र से एनडीए के भाजपा उम्मीदवार अशोक यादव ने महागठबंधन उम्मीदवार बद्री कुमार पूर्वे को 454940 वोट से शिकस्त दी। वहीं कांग्रेस पार्टी से अलग हो कर निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ नेता डॉ शकील अहमद ने तीसरे नंबर पर रहते हुए 131530 वोट ले आए। दूसरे नंबर पर महागठबंधन उम्मीदवार बद्री कुमार पूर्वे ने 140903 वोट लाए।
7.मधुबनी लोकसभा
अशोक यादव 595843
बद्री कुमार पूर्वे 140903
शकील अहमद 131530
454940 वोट से NDA (भाजपा) उमीदवार अशोक कुमार यादव जीते।
 राजनितिक दलों के लोगों की माने तो 2019 के लोकसभा चुनाव में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के द्वारा परोसी देश पाकिस्तान पर सर्जिकल स्ट्राईक एवं बालाकोट हवाई हमले ने भी देश भर में मोदी लहर को और बढ़ा दिया। 
पूरे भारत में मोदी लहर के कारण कांग्रेस के साथ महागठबंधन के कई दिग्गज नेता अपनी साख बचाने में विफल रहा। यहां तक कि कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी को भी अमेठी से हार का सामना करना पड़ा।  निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में डाॅ शकील अहमद ने महागठबंधन के प्रत्याशी बद्री पूर्वे के बराबर वोट लाकर, पार्टी के बिना भी अपनी काबिलियत साबित किया।
वहीं झन्झारपुर लोकसभा क्षेत्र से एनडीए के जदयू प्रत्याशी रामप्रीत मंडल ने, महागठबंधन के राजद प्रत्याशी गुलाब यादव को 322951 रिकार्ड वोट से जीत दर्ज क़ी।
6.झंझारपुर लोकसभा
रामप्रीत मंडल 602391
गुलाब यादव 279440
विपिन कु० सिंहवैत (निर्दलीय) 29506
देवेन्द्र प्र० यादव 25630
322951 वोट से NDA (जदयू) उमीदवार रामप्रीत मंडल जीते।
मधुबनी व झंझारपुर लोकसभा क्षेत्र से एनडीए गठबंधन उम्मीदवार के विजय होने पर एनडीए के सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने एक दूसरे को रंग गुलाल लगाकर खुशी का इजहार करते हुए लोगों के बीच मिठाई बांटी तो जगह जगह आतिशबाजी भी की गई।
बतादे की विगत 2014 लोकसभा चुनाव में दोनों लोकसभा क्षेत्र से एनडीए गठबंधन के उम्मीदवार विजय हुए थे। इस बार भी मोदी लहर ने दोनों लोकसभा पर अपना कब्जा जमा लिया। दोनों लोकसभा क्षेत्र से एनडीए गठबंधन उम्मीदवार के विजय घोषित होने पर कार्यकर्ताओं ने अबकी बार मोदी सरकार के नारे लगाए।