विजय हम शर्मिंदा है.. कब तक बिजली विभाग कर्मी की जान लेता रहेगा

1062
सहरसा: बिजली विभाग में कॉन्ट्रेक्ट पर कार्यरत मानव बल की करंट लगने से हुई मौत। जिले के गांधी पथ निवासी विजय साह विद्युत विभाग में मानव बल में कार्यरत थे। रविवार की देर शाम ट्रांसफार्मर ठीक करने के दौरान करंट लगने से मौत हो गई। मौत से गुस्साए लोगों ने शहर के शंकर चौक पर शव को रखकर आगजनी कर मुआवजे की मांग कर रहे थे।
 दरअसल बीती रात मृतक विजय साह करीब दस बजे पावर ग्रिड से शट डाउन लेकर रिफ्यूजी कॉलोनी में ट्रांसफार्मर ठीक कर रहा था। इसी दौरान किसी कर्मचारी के द्वारा लाइन दे दिया गया। जिससे वे गंभीर रूप से झुलस गए। आनन फानन में उसे सदर अस्पताल लाया गया जहाँ इलाज के दौरान उसकी मौत हो गयी।
मृतक के पिता ने बताया कि उनका बेटा विजय बिजली विभाग में काम करता था। रात में शट डाउन लेकर काम कर रहा था इसी दौरान किसी ने लाइन दे दिया। बिजली विभाग के लापरवाही से मौत हुई है।
वही आक्रोशित लोग शंकर चौक को जामकर नौकरी एवं मुआवजा की मांग कर रहे है। बहरहाल मृतक की मौत से आक्रोशित लोगों का गुस्सा भले ही प्रशासन के द्वारा शांत कर दिया गया हो पर उनके परिवार का क्या होगा जिनके परिवार का चिराग बुझ गया हो।
जाम स्थल पर पहुंचकर कार्यपालक अभियंता राहुल कुमार ने बताया कि यह जांच का विषय है चेक किया जाएगा शट डाउन लिया गया था कि नही। शट डाउन लेने के बाद भी घटना घटित हो सकती है यदि शक्ति से वहा काम नहीं किया जाए तो। एलटी लाइन के द्वारा अगर कोई कनेक्शन कर देता है तो पोल पर उसका सप्लाय आ जाता है उससे भी ऐसा हो सकता है। उन्होंने मृतक के परिजन को मुुुुआवजा व नौकरी देने का आश्वासन दिया तब जाकर जाम समाप्त हुआ।