मधुबनी – सुदूरवर्ती मतदान केन्द्रों पर सुनिश्चित न्यूनतम सुविधा उपलब्ध कराने का जिला निर्वाचन पदाधिकारी ने दिया निर्देश

सुदूरवर्ती मतदान केन्द्रों पर सुनिश्चित न्यूनतम सुविधा उपलब्ध कराने का जिला निर्वाचन पदाधिकारी ने दिया निदेश
—-सामान्य प्रेक्षक तथा जिला निर्वाचन पदाधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक के द्वारा किया गया सुदूरवर्ती मतदान केन्द्रों का निरीक्षण
मधुबनी: जिला निर्वाचन पदाधिकारी-सह-जिला पदाधिकारी, मधुबनी, श्री शीर्षत कपिल अशोक के द्वारा सभी अनुमंडल पदाधिकारी, झंझारपुर, अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी, फुलपरास-सह-सहायक निर्वाची पदाधिकारी, 07-झंझारपुर लोक सभा निर्वाचन क्षेत्र तथा प्रखंड विकास पदाधिकारी, मधेपुर को लोक सभा निर्वाचन,2019-सुदूरवर्ती मतदान केन्द्रों पर सुनिष्चित न्यूनतम सुविधा उपलब्ध कराने का निदेश दिया गया।
दिनांक 14.04.2019 को सामान्य प्रेक्षक,07-मधुबनी लोक सभा क्षेत्र, पुलिस अधीक्षक, मधुबनी के साथ अधोहस्ताक्षरी द्वारा 39-फुलपरास विधान सभा क्षेत्र के चलंत मतदान केन्द्र सं0 283-परियाही एवं 284-प्राथमिक मकतब, गोबरगढ़ा का निरीक्षण किया गया एवं पाया गया कि यह मतदान केन्द्र क्रमशः कोशी नदी के उस पार एवं इस पार है, जहां आवागमन की काफी असुविधा है। जिसे देखते हुए सभी संबंधित पदाधिकारियों को निदेश दिया गया है कि इन मतदान केन्द्रों पर सुनिश्चित न्यूनतम सुविधा (ए0एम0एफ0) उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें। साथ ही मतदान केन्द्र सं0 283 पर विशेष सेक्टर पदाधिकारी की प्रतिनियिुक्ति भी सुनिश्चित करें।
झंझारपुर अनुमंडल मुख्यालय में 37-राजनगर, 38-झंझारपुर एवं 39-फुलपरास विधान सभा क्षेत्र के सेक्टर पदाधिकारियों के साथ जिला निर्वाचन पदाधिकारी, मधुबनी के द्वारा समीक्षात्मक बैठक की गयी। बैठक के दौरान सेक्टर सं0 242, 262 एवं 231 के सेक्टर पदाधिकारियों द्वारा बताया गया कि उनके साथ संबद्ध क्रमशः मतदान केन्द्र सं0 110-छजना, 316 बकुआ एवं 211 महासिंह हसौली काफी दूरी पर/नदी के पार है, जहां पहुंचने में लगभग 30-60 मिनट लगता है। जिसे देखते हुए सभी संबंधित पदाधिकारियों को अपने स्तर से समीक्षा कर यदि आवश्यक हो तो इन मतदान केन्द्रों पर विशेष पदाधिकारी की नियुक्ति करते हुए शांतिपूर्ण मतदान हेतु समुचित कार्रवाई सुनिश्चित करने का निदेश दिया गया है।