मधुबनी – ‘सिन्हा फुटबाल टूर्नामेंट सिमरी’ का विजेता बना पश्चिम चम्पारण। दो फाइनल मुकाबले के बाद निकला मैच का नतीजा।

‘सिन्हा फुटबाल टूर्नामेंट सिमरी’ का विजेता बना पश्चिम चम्पारण, दो फाइनल मुकाबले के बाद निकाला मैच का नतीजा।
राजनगर – स्थानीय प्रखंड अंतर्गत सिमरी पंचायत में चल रहे फुटबाल टूर्नामेंट के दूसरे फाइनल मैच में पश्चिम चम्पारण नें शिवहर को एक गोल के मुकाबले तीन गोल से हराकर विजयी ट्राफ़ी हासिल की। पहले हाफ तक विजेता टीम दो – एक से आगे थी, वहीं दूसरे हाफ में पश्चिम चम्पारण की टीम नें एक गोल और दागकर, अपनी जीत सुनिश्चत कर ली।
ज्ञात हो कि पहले फाइनल मैच में नतीजा नहीं निकलने के कारण दूसरा फाइनल मैच खेलना पड़ा।
पहले मैच के निर्धारित समय तक दोनो टीम एक एक गोल से बराबरी पर रही। फिर मैच में नतीजा निकालने के लिए पंद्रह मिनट खेल को और बढ़ाया गया। इन पंद्रह मिनट में दोनो टीमों नें कई बार विपक्षी गोल पोस्ट पर आक्रमण किए, परंतु ये पंद्रह मिनट का समय भी गोल रहित खत्म हो गया।
फिर मैच का नतीजा निकालने के लिए प्लैण्टी शूट का सहारा लिया गया जिसमें सात – सात गोल दोनो टीमों नें कर डाले। जिस कारण पहला फाइनल मैच आठ – आठ गोल से बराबरी पर समाप्त हुआ।
वहीं मैच के मुख्य अतिथि एसएसबी डिप्टी कमांडेंट प्रणव शुक्ला, मुखिया धीरेन्द्र पासवान, अमरनाथ प्रसाद, भूतपूर्व सैनिक भोला पासवान, रंजीत कुमार गौतम, एसएसबी बी. के. यादव एवं अन्य अतिथियों नें संयुक्त रूप से विजेता टीम को ट्राफ़ी प्रदान की।
इस अवसर पर अतिथियों नें खिलाड़ियों एवं दर्शकों को संबोधित भी किए। संबोधित करने वालों में हेमंत पासवान, समरजीत कुमार पप्पु, अमरनाथ प्रसाद, दिनेश सिंह, बिष्णुदेव महतो, बलराम शर्राफ, कोषाध्यक्ष भुवनेश्वर महतो, बी. के. यादव (एसएसबी), पावस पासवान, उपाध्यक्ष, इंजीनियर सुबोध जी, नितेस्वर सिंह, भूतपूर्व सैनिक भोला पासवान, दिनेश पासवान, अध्यक्ष हरी नरायण पासवान, उप सचिव परमेश्वर महतो, रंजीत कुमार गौतम, मुख्य अतिथि प्रणव शुक्ला (डिप्टी कमांडेंट एसएसबी), शामिल थे। वहीं धन्यवाद ज्ञापन धीरेन्द्र पासवान, मुखिया सिमरी, नें किया। बेहतरीन मंच संचालन – सुनील झा एवं क्षेमणाथ झा के द्वारा किया गया। आयोजन को सफल बनाने वालों में उपाध्यक्ष रमेश पासवान, सचिव अजय कुमार सिंह उर्फ पिंटू, हरिदेव मंडल, समरजीत सिंह गब्बर, अवधेश कुमार, मिथलेश कुमार,लोकेश कुमार मंडल, दीपक कुमार सिंह, नरेश पासवान, एवं सिन्हा सपोर्ट क्लब के सैंकड़ों कार्यकर्ता शामिल थे। मैच में निष्पक्ष रेफरी का कार्य शंभू पंजियार एवं लक्ष्मी यादव नें अपना काम बखूबी निभाया।