अकादमी अवार्ड के लिए चयनित बिहार की पहली लघु फिल्‍म ‘रीबर्थ’ की स्‍क्रीनिंग संपन्‍न

50

 फिल्‍म ‘रीबर्थ’ की स्‍क्रीनिंग पटना में संपन्‍न

पटना :अकादमी अवार्ड (एथेंस इंटरनेशनल फ़िल्म फेस्टिवल) में चयनित बिहार की पहली लघु फ़िल्म रीबर्थ की स्क्रीनिंग आज किलकारी, पटना में सफलतापूर्वक संपन्‍न हो गई। इस दौरान फिल्‍म के लेखक – निर्देशक – अभिनेता अमर ज्योति झा, सिनेमैटोग्राफर रंजीत सिंह, प्रोडक्शन मैनेजर संजय शाह, एडिटर मनोज राउत, असिस्टेंट डायरेक्टर विकास बच्चन के साथ किलकारी की निदेशक ज्‍योति परिहार, राजीव रंजन श्रीवास्‍तव, उमेश शर्मा और किलकारी के बच्‍चे व अन्‍य लोग भी मौजूद रहे। फिल्‍म की स्क्रिनिंग के बाद दुनिया भर में बिहार का नाम रौशन करने वाले लेखक – निर्देशक – अभिनेता अमर ज्योति झा ने कहा कि पहली बार इस फिल्‍म की स्‍क्रीनिंग बिहार में हुई है।

उन्‍होने बताया कि कुछ साल पहले हमने किलकारी में बच्‍चों को सात दिनों की फिल्‍म मेकिंग की ट्रेनिंग दी थी। और  आज हमने विश्‍व स्‍तर पर सराही गई लघु फिल्‍म की स्‍क्रीनिंग गुरू दक्षिणा के रूप में की। सबों ने फिल्‍म को गंभीरता से देखा और फिल्‍म की सराहना की। वहीं, किलकारी की निदेशक ज्‍योति परिहार ने कहा कि यह फिल्‍म पूरे देश और बिहारवासियों के लिए होली का उपहार है। इस फिल्म ने बिहार का मान सम्मान पूरे देश और विदेश में बढ़ाया है। हमें गर्व होना चाहिए कि अमर ज्योति झा बिहार के कलाकार हैं। अगर आप के हौसले बुलंद हो तो मंजिल मिल ही जाती है चाहे संघर्ष का सफर कितना भी कठिन क्यों ना हो। अमर ज्योति झा की फिल्म इस बात का सबूत है।  बिहार की पहली लघु फिल्म REBIRTH(पुनर्जन्म) का चयन एवं स्क्रीनिंग, एकेडमी अवार्ड क्वालीफाईंग, एथेंस इंटरनेशनल फिल्म एंड वीडियो फेस्टिवल ,ऐथेंस,अमेरिका में हुआ है।

आपको बता दें कि बिहार की ही मिट्टी की कहानी का प्रस्तुतीकरण बहुत ही प्रभावित करता है। अमर ज्योति झा ने मुंबई में काम करते हुए भी पटना ,बिहार में इस फिल्म का संपूर्ण निर्माण किया और अब इस फिल्म की अकैडमी अवॉर्ड फेस्टिवल में स्क्रीनिंग भी होने जा रही है। इससे सभी कला एवं सिनेमा प्रेमियों में उत्साह है और सब गौरवान्वित भी महसूस कर रहे हैं। फिल्म की शूटिंग पटना के अलावा बनारस में भी की गयी है। रीबर्थ पुनर्जन्म एक बेहद ही संवेदनशील और दिल को छू जाने वाली फिल्म है लीला फिल्म्स एंड इंटरटेनमेंट के बैनर तले इस शॉर्ट फिल्म का लेखन निर्देशन के साथ-साथ अमर ज्योति झा ने शानदार अभिनय भी किया है। इस फिल्म में छायांकन, प्रोडक्शन, स्क्रीनप्ले राइटिंग बहुत ही शानदार है। इस 12 मिनट 22 सेकंड की फिल्म को देखने पर यह एहसास होता है कि हम काफी मैच्योर और भारत की संस्कृति से जुड़ी फिल्म देख रहे हैं। पुनर्जन्म के हर दृश्य को बहुत ही बेहतरीन ढंग से निर्देशक ने दिखलाया है।

यह फिल्म इससे पूर्व जापान, कनाडा, चिली, लॉस एंजेलिस, पुणे,रुस, कोलकाता, इंग्लैंड, इटली, मुम्बई, स्पेन, बेंगलुरु, दिल्ली, तुर्की, मध्य प्रदेश, स्विट्जरलैंड एवं झारखंड के साथ देश और विदेश के विभिन्न इंटरनेशनल फिल्‍म फेस्टिवल समेत कई फिल्म समारोह में दिखायी जा चुकी है। अब तक इस फिल्म को देश और विदेश में सिनेमैटोग्राफी, अभिनय ,निर्देशन, एडिटिंग, प्रोडक्शन में 50 अवार्ड मिल चुके हैं। अमर ज्योति झा स्टार प्लस, ज़ी टीवी, सावधान इंडिया , सहारा वन, लाइफ ओके के सीरियल्स के साथ -साथ कई विज्ञापन फिल्म, सामाजिक विषय पर शॉर्ट फिल्म्स, डॉक्यूमेंट्री और फिल्म्स में भी लेखन- निर्देशन और अभिनय कर चुके हैं और अवार्ड भी ले चुके हैं।