भारत की बहुरंगी संस्‍कृति का प्रतीक है होली : राजीव रंजन प्रसाद

54

पर्यावरण को ध्‍यान में रखकर सामाजिक संगठन कदम ने खेली फूलों की होली

पटना: सामाजिक संगठन कदम द्वारा आज राजधानी पटना के होटल कामधेनु में संगीतमय फूलों की होली का भव्‍य आयोजन किया गया। इस दौरान कदम के अध्‍यक्ष सह जदयू प्रवक्‍ता राजीव रंजन प्रसाद ने कहा कि होली भारत की बहुरंगी संस्‍कृति का प्रतीक है। यहां अलग – अलग धर्मावलंबियों और जाति समाज के अंदर आयी विसंगतियों को विजय पाने के लिए रंग बिरंगी होली का आयोजन किया गया। इसमें आज कदम ने पर्यावरण को ध्‍यान में रखकर संगीतमय फूलों की होली का आयोजन किया गया। इसमें सभी समाज के लोगों ने भाग लिया।

उन्‍होंने कहा कि इन दिनों केमिकल की वजह से लोगों में कई तरह की बीमारियां होती हैं। इससे बचने के लिए कदम ने सांकेतिक तौर पर फूलों की होली के जरिये एक संदेश दिया है। हम लोगों से अपील करते हैं कि वे होली के पर्व को भाईचारा के साथ मनायें और अपनी भावनाओं का सकारात्‍मक प्रदर्शन करें। और ध्‍यान रखें कि किसी का नुकसान नहीं हो। साथ ही पर्यावरण को भी नुकसान होने से बचाने का संकल्‍प लें। उन्‍होंने कहा कि गुलाल होली का प्रतीक है, इसलिए यहां अपनी बहुरंगी संस्‍कृति को ध्‍यान में रखकर हर्बल गुलाल भी लोगों ने एक दूसरे को लगाए और आपसी भाईचारे का परिचय दिया।

संगठन कदम के द्वारा संगीतमय फूलों की होली में  राजीव रंजन प्रसाद, अध्‍यक्ष कदम सह प्रवक्‍ता जदयू, ई. राजेंद्र कुमार, मो. सबीहउद्दीन अहमद, अनुप कुमार उपाध्‍यक्ष, अर्पणा भारती कार्यकारी महिला अध्‍यक्ष,  सुनील सिन्‍हा कोषाध्‍यक्ष, अधिवक्‍ता हेमराज, अब्‍दुल मन्‍नान, रितेश कुमार, वरूण कुमार, डॉ इकबाल, सबीर खान, उपेंद्र श्रीवास्‍तव, रागिनी रंजन, अनिमेष, सन्‍नू जी, अनिमेष, नागेंद्र कुमार, इम्तियाज आलम, कंचन माला चौधरी,अंजुला,डॉ संजू कुमारी,भुट्टो खान समेत कई लोग मौजूद रहे।