शांतिपूर्ण एवं भयमुक्त मतदान के लिए वाहन चेकिंग सबसे प्रभावी कदम :कमिश्नर

195

सोशल मीडिया पर रखी जा रही नजर

सहरसा:  कोसी प्रमंडलीय आयुक्त कोसी असंगबा चुबा आओ ने विकास भवन सभा कक्ष में सहरसा जिले की चुनावी तैयारियों की समीक्षा की। इस अवसर पर डीआइजी सुरेश चौधरी भी उपस्थित थे। दोनो अधिकारियों ने चुनावी तैयारी की समीक्षा करते हुए कई निदेश दिए। डीआइजी ने कहा कि निर्वाचन के दौरान एसपी सोशल मीडिया का दुरूपयोग करने वालों पर कड़ी नजर रखें। जिन लोगों का पहले से ऐसा इतिहास रहा है उनके विरूद्ध निरोधात्मक कार्रवाई करें। आयुक्त ने कहा कि प्रशिक्षण के दौरान पीठासीन पदाधिकारियों को इस बात का भी प्रशिक्षण दें कि यदि कोई मतदाता वीवीपैट के बारे में जानकारी चाहता है तो शांतिपूर्वक उसकी जिज्ञासा जरूर शांत करें। एसपी पुलिस बल को भी इसके लिए संवेदनशील बना दें।बताया गया कि 16 मार्च से प्रशिक्षण का द्वितीय चरण प्रारंभ हो रहा है। एक कक्ष में 40 से ज्यादा लोग प्रशिक्षण नहीं लेंगे। वीवी पैट के व्यवहारिक प्रशिक्षण के बाद ही कर्मियों की उपस्थिति दर्ज की जाएगी। जिन शस्त्र अनुज्ञप्तिधारियों का निर्वाचन संबंधी ¨हसा का इतिहास है, उनका शस्त्र एक सप्ताह के अंदर जब्त कर लिया जाए। जिन लोगों ने शस्त्र का सत्यापन अब तक नहीं कराया है, उन्हें नोटिस दें। बैठक में जब्त देशी शराब को दो दिन के अंदर विनष्ट करने तथा जिन लोगों का शराब के धंधे में संलिप्तता का इतिहास है, अनुमंडल पदाधिकारी उनके विरूद्ध निरोधात्मक कार्रवाई का निदेश दिया गया।

आयुक्त ने कहा कि भारत निर्वाचन आयोग के दिशा निदेश का शत प्रतिशत अनुपालन हो। शांतिपूर्ण एवं भयमुक्त मतदान के लिए वाहन चेकिंग सबसे प्रभावी कदम है। एसडीओ और एसडीपीओ नियमित वाहन जांच के अतिरिक्त प्रतिदिन औचक रूप से भी वाहनों की जांच कर लिया करें। कहा कि अवैध सामग्री वाहनों से ढोने के लिए नया-नया उपाय किया जा रहा है। इसलिए बिना यह देखे कि किनका वाहन है या वाहन में कौन बैठे हैं, वाहन की सघन जांच करें। आयुक्त ने कहा कि रैली के स्थान के आवंटन में पहले आओ, पहले पाओ नीति का कठोरता से पालन किया जाएगा।निर्वाचन व्यय संबंधी प्रावधान को प्रभावी बनाने के लिए बैंकरों के साथ बैठक कर लें। वाहन की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए ट्रांसपोर्टरों के साथ बैठक करें। उन्होंने पीडब्लूडी मतदाताओं को भी विधानसभावार चिह्नित के साथ यह भी निदेश दिया कि सी-विजिल एप कारगर ढंग से कार्य कर रहा है या नहीं यह भी जांच कर लें। मौके पर जिला पदाधिकारी शैलजा शर्मा, एसपी राकेश कुमार, उप विकास आयुक्त राजेश कुमार, सभी एआरओ, सभी कोषांग के वरीय पदाधिकारी, नोडल पदाधिकारी आदि मौजूद रहे।