अभिभावकों ने काटा बबाल, टायर जला किया सड़क जाम

248

माध्यमिक परीक्षा कदाचारमुक्त वातावरण में जारी

सहरसा: जिले में वार्षिक माध्यमिक परीक्षा 2019 कदाचारमुक्त वातावरण में चौथे दिन भी जारी है। दो पालियों में हुई परीक्षा शांतिपूर्ण ढंग से हुई। सबेरे से ही परीक्षा केन्द्रों पर परीक्षार्थियों की भीड़ जमा होने लगी।

वही रूपवती गर्ल्स स्कूल परीक्षा केन्द्र पर एक परीक्षार्थी निशा कुमारी को परीक्षा केंद्र पर देर से पहुचने के कारण परीक्षा केंद्र में प्रवेश करने नही दिया गया। जिसके बाद अभिभावक उग्र हो गए और जमकर बवाल काटे और रूपवती गर्ल्स स्कूल के सामने टायर जलाकर व रोड को जामकर प्रदर्शन किया ।
 विद्यार्थी के अभिभावक ने आरोप लगाया कि महज 2 मिनट के देरी से निशा परीक्षा केंद्र पर आई लेकिन उन्हें परीक्षा केन्द्र से बाहर कर दिया गया। अभिभावकों ने बताया कि इस दौरान पुलिस ने जमकर लाठी चार्ज किया जिसमे अभिभावक, मुसाफिर को भी चोटे आयी।
मौके पर सदर एसडीओ शम्भूनाथ झा,सदर एसडीपीएओ प्रभाकर तिवारी पहुचकर लोगों से बात कर मामले को शांत कराया। 
 वही 24213 परीक्षार्थियों के लिए बनाए गए जिले के 22 परीक्षा केन्द्रों पर दंडाधिकारी सहित सशस्त्र पुलिस बलों की तैनाती की गयी। शहर के सभी परीक्षा केन्द्र पर परीक्षार्थियों की गहन रूप से जांच की गयी। जांच के क्रम में परीक्षार्थी को एडमिट कार्ड और पेन के अलावा कुछ और ले जाने की पूरी सख्त पाबंदी थी। परीक्षा केन्द्रों पर जूता मौजा पहन कर आनेवाले परीक्षार्थियों को केन्द्र के बाहर ही जूता मौजा उतारना पड़ा। तब जाकर उन्हें परीक्षा केन्द्र के अंदर प्रवेश करने की इजाजत मिली। केन्द्र के बाहर कई जोड़े जूता लावारिश हालत में पड़े थे। परीक्षा केन्द्रों पर पर्स सहित अन्य सभी चीजों की पाबंदी थी।
अधिकारियों ने किया केन्द्र का निरीक्षण
मैट्रिक की परीक्षा को लेकर प्रशासनिक अधिकारियों ने केन्द्रों का निरीक्षण करते रहे। एसडीपीओ प्रभाकर तिवारी ने बताया कि  कदाचार मुक्त परीक्षा संचालित करने के लिए जिला प्रशासन कटिबद्ध है। सदर अनुमंडल पदाधिकारी शंभूनाथ झा एवं एसडीपीओ प्रभाकर तिवारी ने कई केन्द्रों का औचक निरीक्षण किया।