चौथा स्तम्भ खतरे में: छायाकार के साथ दुर्व्यवहार

1350

पीड़ित है चौथा स्तम्भ प्रशासन से

सहरसा:  इंटर की चल रही परीक्षा के दौरान रमेश झा महिला कॉलेज केंद्र पर दंडाधिकारी व पुलिस कर्मी द्वारा हिन्दुस्तान के छायाकार के साथ दुर्व्यवहार किया गया। इस घटना पर एकजुट हो स्थानीय मीडियाकर्मियोंं ने विरोध जताते कार्रवाई की मांग की।

एसपी राकेश कुमार ने घटना को गंभीरता से लेते हुए मामले की जांच कर 24 घंटे के अंदर कार्रवाई का अश्वासन दिया। मालूम हो कि गुरूवार को पहली पाली की परीक्षा में महिला कॉलेज केंद्र के बाहर फोटोग्राफर दिनेश चौधरी फोटोग्राफी कर रहे थे। उसी क्रम में केंद्र पर मौजूद दंडाधिकारी व हवलदार ने फोटोग्राफर के साथ बदसलूकी की। नाम पूछते हुए जाति सूचक शब्दों का इस्तेमाल करते अपमानित किया। इस घटना की खबर सुन शहर मेें मौजूद तमाम मीडिया कर्मी सदर थाना में पहुंचकर कार्रवाई की मांग करते धरना पर बैठ गये। खबर मिलते ही सदर एसडीओ शंभुनाथ झा, एसडीपीओ प्रभाकर तिवारी, थानाध्यक्ष आर.के.सिंह ने थाना पहुंच मीडियाकर्मियों से बात की। मीडियाकर्मियों ने घटना क्रम की जानकारी देते दुर्व्यवहार करने वाले मजिस्ट्रेट व पुलिसकर्मी पर कार्रवाई की मांग की। एसडीओ व एसडीपीओ ने वरीय अधिकारियों को वस्तुस्थिति से अवगत कराया। एसपी राकेश कुमार ने कहा कि वह खुद अपने स्तर से मामले की जांच करेंगे। दोषी पाये जाने वाले अधिकारी व पुलिस कर्मी पर 24 घंटे के अंदर कार्रवाई की जाएगी। तब जाकर मीडियाकर्मियों का आक्रोश शांत हुआ। मौके पर श्रमजीवी पत्रकार यूनियन के अध्यक्ष नवीन निशांत, आलोक कुमार झा, नीरज कुमार , दीपांकर, राजन, अमरेंद्र कांत, ज्ञानमूर्ति, श्रुतिकांत, धीरज सिंह, मनोज ठाकुर, सिद्धार्थ, विनय कसौधन,अनुभव, विशाल, मनीष, नीरज सिंह, अमित अन्नू, कुणाल किशोर(कोशी xpress)सहित दर्जनों मीडिया कर्मी मौजूद थे।