विशेष कक्षा चलाकर बच्चों को बनाएंगे दक्ष : डीपीओ

269

पढ़ाई में कमजोर बच्चों को वर्ग सापेक्ष दक्षता लाने के लिए प्रशिक्षण आयोजित

तीसरी से पाँचवी कक्षा के छात्र-छात्राओं के लिये चलेगी अलग से क्लास

शिक्षकों को बीआरपी एवं सीआरसीसी देंगे ट्रेनिंग

सहरसा : जिला मुख्यालय स्थित आवासीय आदर्श मध्य विद्यालय शिक्षक संघ में शिक्षा विभाग की ओर से कमाल प्रशिक्षण के तहत कक्षा तीन से पांच के कमजोर बच्चों में वर्ग सापेक्ष दक्षता लाने के लिए जिले के सभी प्रखंडों के एक बीआरपी एवं सभी सीआरसीसी को तीन बैचो में बांटकर पांच दिवसीय गैर आवासीय प्रशिक्षण दिया गया। प्रशिक्षण के समापन के मौके पर सर्व शिक्षा अभियान के जिला कार्यक्रम पदाधिकारी मनोज कुमार ने कहा कि वर्ग तीन से पांच में पढ़ रहे कमजोर बच्चों की पढ़ाई को रुचिकर व नमीनतम तकनीक के माध्यम से पढ़ाई कराने के लिये प्रखंड साधन सेवियों एवं संकुल समन्वयकों को प्रशिक्षित किया गया है। उन्होंने कहा कि सभी प्रतिभागी गुणवत्तापूर्ण प्रशिक्षण लेने के उपरांत अपने संकुल एवं विद्यालय में जाकर बच्चों का मूल्यांकन कर कमजोर बच्चों को चिन्हित करेंगे। साथ ही विशेष कक्षा चलाकर बच्चों को दक्ष बनाएंगे। ताकि कोई भी बच्चे अपनी कक्षा में बेहतर प्रदर्शन कर सकें। उल्लेखनीय हो कि बच्चों की बुनियादी शिक्षा मजबूत करने के उद्देश्य से बिहार शिक्षा परियोजना परिषद पटना एवं प्रथम एजुकेशन फाउंडेशन के साझा प्रयास से कक्षा तीन से पांच के लिए संचालित कार्यक्रम विशेष शिक्षण का‌र्य्रकम के तहत सहरसा जिले के सभी संकुल समन्वयकों एवं प्रखंड साधन सेवियों को प्रशिक्षण दिया गया। इस प्रशिक्षण में प्रशिक्षकों ने कमाल शिक्षण पद्धति के बारे में बताया। इसमें बच्चों के साथ भाषा और गणित के सवाल बनाने के आसान तरीके बताए गये। मौके पर प्रथम संस्था के अरुण कुमार,पंकज कुमार, संतोष कुमार ठाकुर, जिला समन्वयक रितेश कुमार सिंह, मास्टर प्रशिक्षक बीआरपी संजीव कुमार चौधरी, आलोक कुमार सिंह, हरेराम पासवान, प्रतिभागी के रूप में अमित कुमार झा, राणा राकेश, जवाहर प्रसाद यादव, सुवंश कुमार, खेलाडी पासवान, नंदलाल पाठक,अक्षय कुमार, विनय कुमार, अमीन अकबर, हरिनारायण राम, अमरेन्द्र यादव, सुदीना कुमारी, मंजू कुमारी, संगीता कुमारी, गुड़िया कुमारी आदि उपस्थित थे।